Wednesday , September 20 2017
Home / International / सुपर कंप्यूटरों की सूची में चीन एक बार फिर नंबर 1

सुपर कंप्यूटरों की सूची में चीन एक बार फिर नंबर 1

बीजिंग: दुनिया के सबसे शक्तिशाली कंप्यूटर की ताजा सूची में चीन का नया सुपर कंप्यूटर सर्वोपरि है।चीन का यह नया सुपर कंप्यूटर 93 पीटा फलोप संवे टीहो लाइट चीन के शहर वूशी राष्ट्रीय सुपर कंप्यूटिंग सेंटर में स्थापित है। जब यह कंप्यूटर अपनी पूरी क्षमता पर काम कर रहा होता है तो यह 93 हजार खरब प्रति सेकंड की गति से हिसाब लगा सकता है।

नवीनतम सूची के अनुसार इससे पहले तेज कंप्यूटर टीयान्हे 2 था और यह कंप्यूटर भी चीन का ही था। लेकिन 93 पीटा फलोप सनवे टीहो लाइट टीयान्हे 2 से दो गुना तेज और तीन गुना अधिक प्रभावी है।

जैक डोनगरीन ने इस कंप्यूटर के बारे में लिखा है कि एप्लिकेश्न्ज़ में एडवांस्ड मैनुफेक्चरिंग, मौसम का पूर्वानुमान और बड़े डेटा विश्लेषण शामिल है।उनके अनुसार इस कंप्यूटर में 10.5 लाख स्थानीय जनित प्रोसेसिंग कोरज़ और 40960 नोडज़ और यह लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता है।

जब से सुपर कंप्यूटर की सूची प्रकाशित होनी शुरू हुई है यह पहला मौका है कि 500 कंप्यूटरों की सूची में चीन के 167 हैं जबकि अमेरिका के 165 कंप्यूटर हैं।

टॉप 500 के अनुसार ‘महज दस साल पहले इस सूची में चीन के 28 कंप्यूटर थे और उनमें से कोई भी 30 अच्छा कंप्यूटर की सूची में शामिल नहीं था। चीन ने सुपर कंप्यूटर की दुनिया में बहुत विकास और भी तेजी से प्रगति की है। ‘

टॉप 500 की सूची में अमेरिका के चार सुपर कंप्यूटर सर्वश्रेष्ठ दस की सूची में शामिल हैं जबकि चीन के केवल दो हैं जो पहले और दूसरे नंबर पर हैं।यह सूची टॉप 500 साल में दो बार छपती है। पहले दस कंप्यूटर में जापान, स्विट्जरलैंड, जर्मनी और सऊदी अरब कंप्यूटर शामिल हैं।

विश्वविद्यालय साउथ हैम्पटन के प्रोफेसर ली कार का कहना है ‘ऐसा सॉफ्टवेयर लिखना बहुत मुश्किल काम है जो इतने बड़े पैमाने पर मौजूद कोरज़ से लाभ उठा सके और उन्हें नियंत्रित कर सके। और यही कारण है कि सुपर कंप्यूटर विशिष्ट एप्लिकेश्न्ज़ की सीमा तक ही इस्तेमाल होते हैं । ‘

TOPPOPULARRECENT