Tuesday , October 17 2017
Home / India / सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले का इंतिज़ार करना चाहिये

सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले का इंतिज़ार करना चाहिये

भोपाल, १३ दिसम्बर: (पी टी आई) भोपाल में 64 वां आलमी तब्लीग़ी इजतिमा आज इख़तताम को पहुँचा जहां आख़िर में दुनिया भर में अमन-ओ-हम आहंगी के लिए ख़ुसूसी दुआ की गई।

भोपाल, १३ दिसम्बर: (पी टी आई) भोपाल में 64 वां आलमी तब्लीग़ी इजतिमा आज इख़तताम को पहुँचा जहां आख़िर में दुनिया भर में अमन-ओ-हम आहंगी के लिए ख़ुसूसी दुआ की गई।

मौलाना ज़ुबैर उल-हसन, निज़ाम उद्दीन मर्कज़ का इजतिमा में ख़ुसूसी ख़िताब था। उन्हों ने मुल्क् और सारी दुनिया में अमन-ओ-हम आहंगी के इलावा मुख़्तलिफ़ बीमारीयों में मुबतला अफ़राद के लिए शिफ़ा की ख़ुसूसी दुआ की और इस के साथ साथ मुस्लमानों को तलक़ीन की कि सुन्नत नबवी ए पर अमल करें।

इस इजतिमा में दुनिया भर से मुमताज़ मुबल्लग़ीन और स्कालरस ने शिरकत की और शुरका से मुख़ातब किया। तक़रीबन 410 इजतिमाई शादियां अंजाम दी गईं। इजतिमा में 10 लाख से ज़ाइद अफ़राद ने शिरकत की जिन में दुनिया भर से आने वाले मंदूबीन भी शामिल हैं।

TOPPOPULARRECENT