Wednesday , October 18 2017
Home / Delhi / Mumbai / सुप्रीम कोर्ट यह निर्धारित नहीं कर सकता कि हम अपना त्यौहार कैसे मनाएं: राज ठाकरे

सुप्रीम कोर्ट यह निर्धारित नहीं कर सकता कि हम अपना त्यौहार कैसे मनाएं: राज ठाकरे

महाराष्ट्र: देशभर में जन्माष्टमी के मौके पर दही हांडी फोड़ने का रिवाज़ बरसो से चला आ रहा है। हर साल दही हांड़ी फोड़ने के लिए हजारों की तादाद में लोग ऊचाईयों को चूने की कोशिश करते हैं। लेकिन इस बार सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किये है कि दही हांड़ी फोड़ने के लिए ज्यादा से ज्यादा तय ऊचाई सिर्फ 20 फ़ीट होगी। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश का असर जहाँ मुंबई में सभी जगह देंखने को मिल रहा है वहीँ राज ठाकरे की पार्टी मनसे (महाराष्ट्र नव निर्माण सेना) के कार्यकर्ताओं द्वारा थाणे में 49 फीट ऊंची हांडी लगाई है जो कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार 19 फ़ीट ज्यादा है। एमएनसे प्रमुख राज ठाकरे भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर प्रतिक्रिया देते हुए कार्यक्रम के आयोजक अविनाश जाधव ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट यह निर्धारित नहीं कर सकता कि हम अपना त्यौहार कैसे मनाएं। मुझे नहीं लगता कि कानून इस मामले में कोई फैसला ले सकता है और अगर मैंने किसी कानून का उल्लंघन किया है तो मैं जेल जाने को तैयार हूं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करते हुए राज ठाकरे ने सिर्फ वोट बैंक के चक्कर में गाइडलाइंस को ना मानने का ऐलान किया है और गोविंदाओं से अपील की है कि वो जिस तरह से पहले दही हांडी खेलते थे उसी तरह से इस बार भी खेलें।

TOPPOPULARRECENT