Friday , August 18 2017
Home / Kashmir / सेना से नहीं अब पत्थरबाजी से डरते हैं कश्मीर के लोग: महबूबा मुफ़्ती

सेना से नहीं अब पत्थरबाजी से डरते हैं कश्मीर के लोग: महबूबा मुफ़्ती

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर श्रीनगर में तिरंगा फहरा  अलगाववादियों पर जमकर हमला बोला। महबूबा ने कहा कि अगर दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र में  हमें अपनी समस्याओं का हल नहीं मिलेगा तो दुनिया की कोई बंदूक हमें हल नहीं दिला सकेगी। कश्मीर वो गुलदस्ता है जिसमें हर मजहब और हर जबान के लोग रहते हैं वो नहीं जो हिंसा करता हैं,गोलियां चलाता है। कश्मीर के मौजूदा हालात देखकर लोग अपने बच्चों का भविष्य महफूज करने के लिए उन्हें बाहर भेज देते हैं। पहले लोग सुरक्षा बलों से डरते थे लेकिन अब लोग पत्थरबाजों से डरते हैं। यहाँ ऐसे भी लोग हैं जो बच्चों को आगे करते हैं और खुद पीछे रहकर हमले करते हैं. बच्चों को मोहरा बनाया जा रहा है क्योंकि जब यहाँ स्कूल बंद रहेंगे तो बच्चों का ध्यान आसानी से भटकाया जा सकता है।  अगर कहीं सेना के जवानों या पुलिस वालों की ज्यादती का मामला सामने आया तो उनसे भी जवाब लिया जाएगा।  भारत के साथ कश्मीर का कोई झगड़ा नहीं बल्कि कश्मीर देश के दूसरे हिस्से के लोगों पर यकीन है।

TOPPOPULARRECENT