Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / सेयासी दुकान चलाने केलिए तेलगुदेशम निशाना

सेयासी दुकान चलाने केलिए तेलगुदेशम निशाना

हैदराबाद। 17 जनवरी (सियासत न्यूज़) रुकन असम्बली तेलगुदेशम मिस्टर पी केशव ने इल्ज़ाम आइद किया कि वाई ऐस आर कांग्रेस बदउनवानीयों और बे क़ाईदगियों में मुलव्विसअपने क़ाइद की शबिया को बेहतर बनाने की कोशिश में मसरूफ़ हैं और तेलगुदेश

हैदराबाद। 17 जनवरी (सियासत न्यूज़) रुकन असम्बली तेलगुदेशम मिस्टर पी केशव ने इल्ज़ाम आइद किया कि वाई ऐस आर कांग्रेस बदउनवानीयों और बे क़ाईदगियों में मुलव्विसअपने क़ाइद की शबिया को बेहतर बनाने की कोशिश में मसरूफ़ हैं और तेलगुदेशम क़ाइद मिस्टर एन चंद्रबाबू नायडू को निशाना बनारहे हैं। मिस्टर पी केशव ने बताया कि तेलगुदेशम पार्टी ने जो भी इल्ज़ामात आइद किए हैं इस के सबूत और शवाहिद की बुनियाद पर अवाम के सामने हक़ायक़ को पेश किया गया है लेकिन वाई ऐस जगन मोहन रेड्डी अपने वालिद डाक्टर वाई ऐस राज शेखर रेड्डी के दौर में हुई बदउनवानीयों और बे क़ाईदगियों के मुताल्लिक़ कोई जवाज़ पेश करने के मौक़िफ़ में नहीं है।

इसी लिए तेलगुदेशम पार्टी को निशाना बनाते हुए अपनी सेयासी दुकान चलाने की कोशिश कररहे हैं। मिस्टर पी केशव ने बताया कि वाई ऐस जगन मोहन रेड्डी ने अपने वालिद के दौर-ए-इक्तदार में बदउनवानी और बे क़ाईदगियों में मुलव्विस ओहदेदारों की मदद से रियास्ती हुकूमत को नुक़्सान पहुंचाने में भी अहम किरदार अदा किया है। उन्हों ने बताया कि वाईऐस जगन मोहन रेड्डी अपने हामीयों और मुख़ालिफ़ीन तेलगुदेशम की ख़ुशनुदी के लिए तेलगुदेशम पार्टी को निशाना बनाने की कोशिश कररहे हैं।

मिस्टर पी केशव ने बताया कि सदर तेलगुदेशम मिस्टर एन चंद्रा बाबू नायडू ने अपने दौर-ए-इक्तदार में बदउनवानीयों के ख़ातमा और शफ़्फ़ाफ़ हुक्मरानी के लिए कई इक़दामात किए थे लेकिन जगन मोहन रेड्डी ने अपनी वालिदा के ज़रीया सदर तेलगुदेशम मिस्टर नायडू पर बदउनवानीयों के इल्ज़ामात आइद किए थे लेकिन हाईकोर्ट की जानिब से हासिल राहत पर बौखलाहट का शिकार जगन मोहन रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट से रुजू होते हुए तहक़ीक़ात के मुआमले को दूसरी कोर्ट मुंतक़िलकरने की दरख़ास्त दिलवाई थी

लेकिन इस दरख़ास्त पर अदालत के रद्द-ए-अमल ने ये साबित करदिया है कि मिस्टर वाई ऐस जगन मोहन रेड्डी झूट के सहारे इल्ज़ामात लगाते हुए ख़ुद की एहमीयत को मनवाने की कोशिश कररहे हैं जबकि ऐसा किया जाना मुम्किनहै।

TOPPOPULARRECENT