Saturday , October 21 2017
Home / Bihar News / सेयाहत में सरमायाकरी करे जाती इलाके : नीतीश

सेयाहत में सरमायाकरी करे जाती इलाके : नीतीश

पटना 25 मई : बिहार में सेयाहत (Tourism) के बेपनाह नहीं, असीम एम्कनात हैं। इसकी तरक्की जाती इलाके के तावून के बगैर मुमकिन नहीं है। चैंबर ऑफ कॉमर्स जैसी तंजीमें इस पर सेमिनार तो करे हीं, सेयाहत में सरमायाकरी भी करें।

पटना 25 मई : बिहार में सेयाहत (Tourism) के बेपनाह नहीं, असीम एम्कनात हैं। इसकी तरक्की जाती इलाके के तावून के बगैर मुमकिन नहीं है। चैंबर ऑफ कॉमर्स जैसी तंजीमें इस पर सेमिनार तो करे हीं, सेयाहत में सरमायाकरी भी करें।

ये बातें जुमा को वज़ीरे आला नीतीश कुमार ने टूरिज्म, हेरिटेज एंड हॉस्पिटलिटी कॉन्फ्रेंस में कहीं। कॉन्फ्रेंस के दूसरे सेशन को खेताब करते हुए उन्होंने सरमायाकरों को यकीन किया कि उन्हें पूरी तहफ्फुज़ मिलेगी। बिहार में गैर मुल्की सेयाहों की तादाद 11 लाख तक पहुंच गयी है, जबकि मुल्की सेयाह 2.10 करोड़ हो गये हैं।

इसे फरोग देने के लिए तमाम सर्किटों में सहूलियत बढ़ाने की जरूरत है। वज़ीरे आला ने कहा, बिहार मुक़द्दस जमीन है। गुरु गोविंद सिंह की जाए पैदाईश है। 2016-17 में उनकी 350 वीं सालगिरह मनायी जायेगी। दुनिया भर के 50 लाख लोग पटना साहिब में जुटेंगे। इस तकरीब में रियासत हुकूमत तो तावून करेगी ही, मर्क़ज को भी मदद करनी चाहिए।

बुद्ध के अस्थि कलश को पटना म्यूजियम में रखा गया है। उसे वैशाली म्यूजियम में रखा जायेगा। वज़ीरे आला ने कहा कि पटना में अल्क्वामी म्यूजियम का तामीर कराया जायेगा। रियासत हुमुमत इसके तामीर पर 500 करोड़ रुपये खर्च करेगी। इस तरक्की से सेयाहों की तादाद बढ़ेगी। मौके पर वज़ीरे सेयाहत सुनील कुमार पिंटू व फन-श्काफत वजीर डॉ सुखदा पांडेय ने भी ख्याल रखे। ओपरेशन सेयाहत सेक्रेटरी मिहिर कुमार सिंह ने किया।

TOPPOPULARRECENT