Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / सॉफ्टवेर इंजिनियर की इजतिमाई इस्मत रेज़ि

सॉफ्टवेर इंजिनियर की इजतिमाई इस्मत रेज़ि

रंगारेड्डी अदालतों की बार एसोसीएशन ने एक ख़ातून सॉफ्टवेर इंजिनियर की इजतिमाई इस्मत रेज़ि के इल्ज़ाम के तहत गिरफ़्तार शूदा दो मुल्ज़िमीन की वकालत ना करने का फ़ैसला किया है।

रंगारेड्डी अदालतों की बार एसोसीएशन ने एक ख़ातून सॉफ्टवेर इंजिनियर की इजतिमाई इस्मत रेज़ि के इल्ज़ाम के तहत गिरफ़्तार शूदा दो मुल्ज़िमीन की वकालत ना करने का फ़ैसला किया है।

रंगारेड्डी डिस्ट्रिक्ट कोर्टस बार एसोसीएशन की मजलिस-ए-आमला ने मुत्तफ़िक़ा तौर पर एक क़रारदाद मंज़ूर करते हुए इस इजतिमाई इस्मत रेज़ि के वाक़िये की मुज़म्मत की और एलान किया कि ज़िला रंगारेड्डी की अदालतों से वाबस्ता वुकला इस मुक़द्दमा में मुल्ज़िमीन की वकालत नहीं करेंगे।

बार एसोसीएशन के सदर के राज रेड्डी ने पी टी आई से कहा कि आमिला कमेटी ने फ़ैसला किया हैके रंगारेड्डी ज़िलई अदालतों से वाबस्ता वुकला से दरख़ास्त की जाएगी कि वो इन दोनों मुल्ज़िमीन की वकालत ना करें। एसोसीएशन ने पुलिस से दरख़ास्त की हैके मुक़द्दमा की समाअत जारी रहने तक मुल्ज़िमीन को अदालती तहवील में रखा जाये। उन्होंने कहा कि मुक़द्दमा की फ़ौरी समाअत को यक़ीनी बनाया जाये ताकि मुल्ज़िमीन को उनके जुर्म पर जल्द से जल्द इबरतनाक सज़ाएं दिलाई जा सके।

इस दौरान कार ड्राईवरस सतीश और वेंकटेश्वर लो को जिन्हें साइबराबाद पुलिस ने पिछ्ले रोज़ गिरफ़्तार किया था 22 साला सॉफ्टवेर इंजिनियर के अग़वा और इस्मत रेज़ि के इल्ज़ाम के तहत को कट पली मेट्रो पोलीटन मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया। मजिस्ट्रेट ने दोनों मुल्ज़िमीन को 14दिन के लिए अदालती तहवील में दे दिया।

TOPPOPULARRECENT