Monday , August 21 2017
Home / Delhi News / सोमैया हत्याकांड की आलोचना जस्टिस काटजू को पड़ी महंगी, सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब

सोमैया हत्याकांड की आलोचना जस्टिस काटजू को पड़ी महंगी, सुप्रीम कोर्ट ने किया तलब

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने सौम्या हत्याकांड में अपने फैसले की आलोचना करने वाले पूर्व न्यायाधीश मार्कंडेय काटजू को आज तलब किया है। न्यायमूर्ति रंजन गोगोई और जस्टिस पी सी पंत और जस्टिस उदय उमेश ललित की डिवीज़न बेंच ने जस्टिस काटजू के ब्लॉग का स्वत: संज्ञान लेते हुए उन्हें व्यक्तिगत रूप से अदालत में पेश होने को कहा। पूर्व न्यायाधीश ने अपने ब्लॉग पर सोमैया हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट के फैसले की कड़ी आलोचना की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार उन्होंने सुर्खियों में रहने वाले सोमैया बलात्कार और हत्या मामले में दिए गए फैसले को ‘गंभीर गलती’ करार दिया था। उन्होंने कहा कि लंबे समय से काम कर रहे जजों से उन्हें ऐसे फैसले की उम्मीद नहीं थी। शीर्ष अदालत ने न्यायमूर्ति काटजू से कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से अदालत में आएं और बहस करें कि कानून में वे सही हैं या अदालत. अदालत का कहना है कि जस्टिस काटजू के लिए उसके दिल में बहुत सम्मान है और इसलिए वह चाहता है कि प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष व्यक्तिगत रूप से अदालत में पेश हों और साथ ही खुली अदालत में बहस करें।
अदालत ने कहा कि जस्टिस काटजू यह बताएं कि वह इस फैसले को मौलिक रूप से कैसे गलत मानते हैं? उल्लेखनीय है कि अदालत ने पिछले 15 सितंबर को सोमैया हत्याकांड के दोषी की मौत की सजा को उम्रकैद में बदल दिया था. बेंच का कहना है कि वह केरल सरकार और पीड़ित सोमैया की माँ की ओर से अलग दायर की गई पुनर्विचार याचिकाओं पर फैसला जस्टिस काटजू से बहस करने के बाद ही होगा। यह पहला मामला है जब सुप्रीम कोर्ट ने अपने एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश को निर्णय की आलोचना करने के लिए तलब किया है।

TOPPOPULARRECENT