Friday , September 22 2017
Home / Khaas Khabar / सोशल मीडिया: अबकी बार “नोट नहीं पीएम बदलो”

सोशल मीडिया: अबकी बार “नोट नहीं पीएम बदलो”

नोटबंदी के फैसले के बाद एकतरफ जहां देश कतार में है। वहीं भगदड़ और अफरा-तफरी से अबतक सैकड़ो लोग जान भी गंवा चुके हैं। काले धन और जाली नोट का हवाला देकर नोटबंदी उम्मीद से परे लोगो को नापंसद आ रहा है। आम जनता का गुस्सा भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फुट रहा है। सोशल मीडिया की दिवार नरेंद्र मोदी का आलोचना से पुटी हुई है। ट्विटर पर सोमवार (14 नवंबर) को #नोट_नहीं_PM_बदलो टॉप ट्रेंड में चल रहा है। लोग इसपर पीएम मोदी के नोटबंदी से तंग आकर नोट की जगह पीएम बदलने की बात कर रहे हैं।
सोशल मीडिया पर मुबश्शिर आलम #नोट_नहीं_PM_ को हैशटेग एक वीडियो शेयर किया
गज़ब के अदाकार हैं मोदी जी बस धंधा गलत चुन लिया फिल्मों में होते तो हर साल का ऑस्कर अवार्ड मोदी को मिलता..
https://www.facebook.com/mubasshir.alam.982/videos/684824318342138/

अशफाक खान लिखते हैं कि अपना पैसा बैंक से निकालने के लिए आप को पुलिस की लाठी, डंडे खाने पड़ रहे है, इस लिए #नोट_नहीं_PM_बदलो अपने साथ खुद इंसाफ करो !

एक और यूजर ने लिखा ‘लाइन में लग के जिस PM को चुना, आज उसी PM की वजह से भूखे प्यासे लाइन में लगे हैं।’ ‘मोदी जी जनता के दुःख में इतना रोये की गोवा, बेलगाम और पुणे के बीच में 3 बार कपड़े बदलने पड़े’, दूसरे ने लिखा, ‘मोदी को समझ नही आ रहा कि बैंक की लाइन मे लगी भीड़, केवल भीड़ नही है, लोग हैं, और उनके सब्र के बांध बहुत मजबूत नहीं होते हैं’, तीसरे ने लिखा, ‘किसी के घर में शादी रुक गयी, किसी के घर में मौत हुई, किसी का इलाज नहीं हो रहा, कोई लाठी खा रहा है, कोई भूखा सो रहा है’
आरबीआई ने रविवार को लोगों से अपील भी की थी कि उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है बैंक के पास काफी करेंसी है। लेकिन उनके वादों के उलट ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। देश के कई ATM आउट ऑफ सर्विस चल रहे हैं। जो खुल रहे है वो भी नियमित समय के लिए।

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने सोमवार की सुबह को गाजीपुर में रैली के दौरान कहा था नोटबंदी के फैसले से गरीब चैन की नींद सो रहा है और अमीर नींद की गोली खरीद रहा है। लेकिन हकीकत ये है कि सड़को में एटीएम में खुद के पैसा निकालने के लिए बेबस गरीब ज्यादा हैं।

TOPPOPULARRECENT