Monday , September 25 2017
Home / Bihar/Jharkhand / स्कुल से लौट रही सात साल बच्ची के साथ रेप

स्कुल से लौट रही सात साल बच्ची के साथ रेप

मुजफ्फरपुर:सात साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसका एमएमएस बना लिया गया. इस घटना को अंजाम देने का आरोप दसवीं के छात्र पर लगा है, जिसने पीड़ित बच्ची के परिजनों को धमकी दी कि अगर पुलिस में शिकायत की, तो हम एमएमएस को इंटरनेट पर डाल देंगे. लोक-लाज के डर से पीड़ित बच्ची के परिजन ने पहले पुलिस में शिकायत नहीं की, लेकिन 48 घंटे सोच-विचार के बाद उन्होंने पुलिस में जाने का फैसला किया और जब पुलिस से शिकायत की, तो आरोपित छात्र परिवार के साथ फरार हो गया. बताया जाता है कि घटना 19 मार्च को भिखनपुर इलाके में हुई.

जानकारी के मुताबिक सात साल की मासूम रोज की तरह अपने स्कूल से लौट रही थी. इस दौरान पड़ोस में रहनेवाले छात्र ने उसे अपने घर बुला लिया. छात्र ने बच्ची से कहा कि दादी उसको बुला रही है. चूंकि बच्ची घर में आती-जाती थी. इस वजह से वो घर से अंदर चली गयी, लेकिन छात्र ने बच्ची को बंधक बना लिया और जबरन घर में ही उसके साथ दुष्कर्म किया. इस दौरान उसने एमएमएस भी बना लिया. दुष्कर्म के बाद भी वो बच्ची को अपने घर में बैठा कर रखे हुये था.

इधर, शाम हो जाने पर भी बच्ची जब स्कूल से घर नहीं पहुंची, तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की. इसी दौरान गांव के ही एक व्यक्ति ने बताया कि बच्ची पड़ोसी के घर में गयी है. इसके बाद बच्ची के परिजन पड़ोसी के यहां पहुंचे, तो देखा कि बच्ची रो रही है. परिजनों ने जब रोने की बात पूछी, तो उसने सारी बात बता दी. इसके बाद परिजनों ने छात्र के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बात की. इसी बीच आरोपित छात्र ने पीड़ित बच्ची के परिजनों को अपने मोबाइल की एमएमएस क्लिप दिखायी और कहा कि अगर पुलिस में शिकायत करोगे, तो हम इसे इंटरनेट पर डाल देंगे.

बताया जाता है कि काफी राय-विचार के बाद बच्ची के परिजन मंगलवार को थाने पहुंचे, जब पुलिस के सामने पूरा मामला आया, तो तुरंत हरकत में आयी और उसने आरोपित छात्र से पूछताछ के लिए उसके घर पहुंची, लेकिन आरोपित छात्र व उसके परिजन घर पर नहीं मिले.

मंगलवार को देर शाम हो जाने की वजह से पुलिस बच्ची का मेडिकल नहीं करवा पायी. पुलिस अधिकारियों ने कहा कि बुधवार को बच्ची का मेडिकल कराया जायेगा. सदर थानाध्यक्ष वेदानंद मिश्र ने कहा कि अबी मामले की छानबीन हो रही है. मेडिकल जांच के बाद ही मामले में कुछ कहा जा सकता है. आरोपित को पकड़ा नहीं जा सका है. उसके घर से वो मोबाइल भी बरामद नहीं हो पाया है, जिसमें उसने एमएमएस बनाया था

TOPPOPULARRECENT