Friday , September 22 2017
Home / Bihar News / स्कॉलरशीप में ढाई करोड़ का घपला

स्कॉलरशीप में ढाई करोड़ का घपला

दरभंगा : जिला फ्लाह बोहबुद महकमा में ढाई करोड़ का घपला का मामला सामने आया है। मामले की संजीदगी को देखते हुए डीएम कुमार रवि ने फौरी अमल दिखाते हुए मुल्ज़िम नाजिर पर एफ़आईआर दर्ज कराने का हुक्म दिया है। मामला जिला बोहबुद महकमा से अलोटमेंट किये जाने वाले दलित, महादलित और ओबीसी तालिबे इल्म को दी जाने वाली वजीफा का है। इस ढाई करोड़ के गबन की गूंज पूरे दिन महकमों में होती रही। इत्तिला के मुताबिक जिला बोहबुद ओहदेदार के दफ्तर से माली साल 2013-14 और 2014-15 में हासिल रकम का हिसाब किताब नहीं मिल रहा है।

न तो कैश बुक अपडेट है और न ही नजारत का इंचार्ज दिया जा रहा है। मौजूदा नाजिर सागर कुमार राय ने अपने मन मुताबिक रकम की इंखिला की और मर्जी से खर्च किया। अफसरों को भी बरगला कर रखा और अपनी मर्जी चलायी। इस काम में उनके साथी बने दफ्तर के प्रिन्सिपल एसिस्टेंट दोनों ने दोनों माली साल के दौरान करीब ढाई करोड़ रुपये की घपले बाजी की। इसी दरमियान अगस्त माह में मौजूदा नाजिर का तबादला हाजीपुर हो गया।

उसने बिना नजारत का इंचार्ज सौंपे ही अपना ट्रांसफर करा लिया और हाजीपुर में ट्रांसफर कर लिया। बाद में वह दुबारा दरभंगा डिवीज़नल दफ्तर में ट्रांसफर करा लिया। बावजूद इन्फोर्मेशन के उन्होंने इंचार्ज नहीं दिया। इसी दरमियान कुछ दिन पहले भारतीय स्टेट बैंक की दरभंगा शाख मेंं महकमा का 19 लाख का चेक अदायगी को गया। बैंक वाले ने जिला बोहबुद ओहदेदार से अदायगी के बारे में पूछा तो उन्होंने इनकार किया, तब आला अफसर जागे और किसी भी अदायगी पर रोक लगा दी। मामले की इत्तिला डीएम को दी गयी। डीएम ने फौरन नजारत को सील कराकर, मामले के पहले नज़रिये के मुजरिम नाजिर पर एफ़आईआर दर्ज कराने की हुक्म जिला बोहबुद अफसर को दिया।

TOPPOPULARRECENT