Sunday , July 23 2017
Home / International / स्टील विवाद को लेकर जापान ने दी भारत को WTO में खींचने की धमकी

स्टील विवाद को लेकर जापान ने दी भारत को WTO में खींचने की धमकी

जापान ने स्टील विवाद को लेकर भारत को विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) में ले जाने की धमकी दी है। जापान का आरोप है कि पिछले एक साल में उसका स्टील निर्यात आधा हो गया है क्योंकि भारत ने कुछ मामलों में प्रतिबंध लगा रखा है।

आमतौर पर जापान को इस तरह का आक्रामक प्रतिक्रिया अपनाते नहीं देखा जाता है। दूसरा सबसे बड़ा स्टील उत्पादक होने के नाते जापान इस तरह के विवादों को बातचीत से हल करने का पक्षधर रहा है। माना जा रहा है कि भारत के प्रति जापान का यह रुख अमेरिका के नये राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप के आने के बाद वैश्विक व्यापार में होने वाली उथल-पुथल के मद्देनजर लिया गया है। जानकारों के मुताबिक, जापान को लगता है कि उसे अपने हितों की रक्षा के लिए मजबूती से खड़ा होना होगा। इसीलिए उसने 20 दिसंबर को डब्ल्यूटीओ में भारत के खिलाफ शिकायत की थी।

दरअसल, भारत ने सितंबर 2015 में कुछ स्टील उत्पादों पर 20 प्रतिशत की ड्यूटी लगा दी थी। फरवरी 2016 में भारत ने आयात के लिए एक न्यूनतम मूल्य निश्चित कर दिया ताकि जापान, चीन और दक्षिण कोरिया जैसे देश स्थानीय स्टील उद्योग में सेंध न लगा पाएं। इस बारे में उद्योग मंत्रालय का कहना है कि भारत को अनुचित व्यापारिक व्यवहार को फैलने से रोकना होगा।

डॉच वेले की एक खबर के मुताबिक, जापान के उद्योग मंत्रालय ने कहा कि अगर बातचीत से विवाद हल नहीं हो पाया तो जापान विश्व व्यापार संगठन से फैसला सुनाने का आग्रह करेगा। एक अफसर ने बताया कि जापान ने डब्ल्यूटीओ से 20 दिसंबर को सलाह मांगी थी। जिसके नियम के अनुसार अगर 60 दिन के भीतर विवाद हल न हो तो कार्रवाई की जा सकती है। जापान का कहना है कि भारत का कदम विश्व व्यापार संगठन के नियमों के खिलाफ है जिसके वजह से भारत में उसका निर्यात लगातार कम होता जा रहा है।

TOPPOPULARRECENT