Thursday , May 25 2017
Home / Politics / स्वाति सिंह के खिलाफ़ मौजूदा विधायक का टिकट काटकर अखिलेश ने चचेरे भाई को उतारा

स्वाति सिंह के खिलाफ़ मौजूदा विधायक का टिकट काटकर अखिलेश ने चचेरे भाई को उतारा

लखनऊ: भाजपा ने राजधानी लखनऊ की सरोजनी नगर सीट से पूर्व भाजपा नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वााति सिंह को टिकट दिया है. वह भाजपा महिला विंग की अध्यंक्ष भी है. दयाशंकर को बसपा सुप्रीमो मायावती पर अभद्र टिप्पपणी करने के चलते निकाल दिया गया था. यहां से समाजवादी पार्टी ने मुलायम सिंह यादव के भतीजे और सांसद धर्मेंद्र यादव के भाई अनुराग यादव को उतारा है. इस सीट से बसपा ने जहाँ शिवशंकर सिंह को मैदान में उतारा है वहीँ राष्ट्रीय लोकदल से सपा के पूर्व विधायक शारदा शुक्ला मैदान में हैं. कुल मिला कर लखनऊ की सीटों पर हाई प्रोफाइल टक्कवर देखने को मिल रही है. अनुमान लगाया जा रहा है स्वाति सिंह के लिए मुकाबला काफी मुश्किल है. यह सीट भाजपा कभी नहीं जीती है. पहले यहां से मुख्य मंत्री अखिलेश यादव के लड़ने की खबर थी लेकिन उन्होंने मना कर दिया.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

जनसत्ता के अनुसार, स्वाति सिंह ने बीबीसी को बताया कि मुश्किल सीट है इसलिए पार्टी ने उन्हें इस सीट से उतारा है. क्योंकि उन्हें लगा होगा कि यह सीट स्वाति ही निकाल सकती है. दयाशंकर सिंह पूर्वांचल में बलिया सीट से टिकट के तगड़े दावेदार थे. लेकिन मायावती वाले मामले के लेकर उनका टिकट काट दिया गया. इसके बाद उम्मीद की जा रही थी कि स्वााति सिंह को यहीं से चुनावी मैदान में उतारा जाएगा. लेकिन इसके बजाय उन्हें लखनऊ से उम्मीदवार बनाया गया. बलिया सीट को भाजपा ने समझौते के तहत भारतीय समाज पार्टी को दी है. स्वाति का इस बारे में कहना है कि बलिया में उनकी जीत आसान थी लेकिन सरोजनी नगर में भी कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी.

बता दें कि दयाशंकर सिंह के मायावती पर टिप्पमणी करने के बाद भाजपा बैकफुट पर थी. बसपा समर्थकों ने दयाशंकर के घर के बाहर प्रदर्शन किए थे. इसी दौरान बसपा नेता नसीमुद्दीन ने अभद्र टिप्पाणी की थी, जिसका स्वाति ने आक्रामक अंदाज में पलटवार किया था. वहीं निराश भाजपा को भी स्वाति के रूप में संजीवनी मिली. पार्टी ने तुरंत उन्हें महिला विंग का अध्यक्ष बना दिया.
.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT