Tuesday , October 17 2017
Home / District News / हज कमेटी के ज़रीये अदायगी उमरा के अनक़रीब मवाक़े

हज कमेटी के ज़रीये अदायगी उमरा के अनक़रीब मवाक़े

ख़ानगी एजेंटस के ज़रीये उमरे को जाने वाले अफ़राद को सही सहूलयात फ़राहम नहीं की जा रही हैं इस तरह की शिकायात वसूल हुई हैं जिस के पेशे नज़र हज कमेटी के तवस्सुत से ही हज के लिए जाने वाले अफ़राद को उमरा अदा करने की सहूलत फ़राहम करने के लिए इक़

ख़ानगी एजेंटस के ज़रीये उमरे को जाने वाले अफ़राद को सही सहूलयात फ़राहम नहीं की जा रही हैं इस तरह की शिकायात वसूल हुई हैं जिस के पेशे नज़र हज कमेटी के तवस्सुत से ही हज के लिए जाने वाले अफ़राद को उमरा अदा करने की सहूलत फ़राहम करने के लिए इक़दामात किए जा रहे हैं।

रियासती वज़ीर इन्फ़ार्मेशन और बुनियादी सहूलयात-ओ-हज रोशन बैग ने ये बात बताई। बैंगलौर मुनाक़िदा हज-ओ-तर्बीयती कैंप का इफ़्तेताह करते हुए रोशन बैग ने बताया कि उस वक़्त हज कमेटी की तरफ् से सिर्फ़ हज सफ़र के लिए ही मौक़ा फ़राहम किया जाता है जबकि उमरा के लिए ख़ानगी ट्रेवल्स के तवस्सुत जाना पड़ता है।

आने वाले दिनों में हज कमेटी की तरफ से ही उमरा अदा करने का मौके फ़राहम किया जाएगा ताके अवाम ख़ानगी ट्रेवल्स के धोके में ना आएं। इस ताल्लुक़ से जल्द ही फ़ैसला किया जाएगा।

वज़ीरमौसूफ़ ने बताया कि 2500 आज़मीने हज्ज को तर्बीयत दी गई है। आज़मीने हज्ज को मदीना में रियायती क़ीमत पर खाना फ़राहम करने के लिए इक़दामात किए गए हैं लेकिन मक्का में आज़मीने हज्ज को क़ियाम की सहूलत फ़राहम की जाएगी।

मक्का में ही रियासत कर्नाटक से ताल्लुक़ रखने वाले आज़मीने हज्ज को रिहायश की सहूलत फ़राहम करने इक़दामात किए जाऐंगे। हज कमेटी के सदर एम एच महमूद वक़्फ़ कमेटी के सदर यूसुफ़, हज कमेटी के एग्जीक्यूटिव ऑफीसर अनीस अहमद और दूसरे इस मौके पर मौजूद थे। हज तर्बीयती कैंप 2 दिन तक जारी रहेगा।

TOPPOPULARRECENT