Monday , October 23 2017
Home / Mazhabi News / हज हाउज़ की इमारत को रंग-ओ-रोगन की मंज़ूरी

हज हाउज़ की इमारत को रंग-ओ-रोगन की मंज़ूरी

सदर नशीन वक़्फ़ बोर्ड की हिदायत । सक्योरिटि अहलकारों की तैनाती का फैसला

सदर नशीन वक़्फ़ बोर्ड की हिदायत । सक्योरिटि अहलकारों की तैनाती का फैसला
हज हाउज़ की इमारत को 13 साल के अरसे के बाद रंग-ओ-रोगन की मंज़ूरी हासिल होचुकी है । हज हाउज़ के इफ़्तिताह के बाद से अब तक इस इमारत को रंग-ओ-रोगन नहीं किया गया था । कई बरसों से शिकायत के बाद आज सदर नशीन वक़्फ़ बोर्ड मौलाना ग़ुलाम सय्यद अफ़ज़ल ब्याबानी ख़ुसरो पाशाह ने इमारत को मुकम्मल रंग-ओ-रोगन की हिदायत जारी करदी है ।

सदर नशीन वक़्फ़ बोर्ड ने बताया कि अरसा-ए-दराज़ से हज हाउज़ की इमारत की मुकम्मल आहक पाशी का मसले हल तलब था और इस मसले के हल के लिये मुतअद्दिद नुमाइंदगीयाँ मौसूल हुई हैं लेकिन मुख़्तलिफ़ नकात का जायज़ा लेने के बाद आज इस बात का क़तई फैसला करलिया गया कि हज हाउज़ की मुकम्मल इमारत को रंग-ओ-रोगन किया जाय ।

मौलाना ग़ुलाम सय्यद अफ़ज़ल ब्याबानी ख़ुसरो पाशाह ने बताया कि इमारत को रंग-ओ-रोगन के अलावा हज हाउज़ में रोज़ाना दो मर्तबा झारु कशी और तमाम मंज़िलों पर रोज़ाना सफ़ाई के अहकाम जारी किए गए हैं । उन्हों ने बताया कि हज हाउज़ में दो ख़ानगी सक्योरिटि अहलकारों(सुरक्षा गार्ड) को मामूर करने का भी फैसला किया गया है ताकि रोज़ाना मौसूल होरही शिकायतों को रोका जा सके । हज हाउज़ की मस्जिद के बेतुल खला में नलों की अदम मौजूदगी के मसले को भी हल करलिया जाएगा ।

मौलाना ख़ुसरो पाशाह ने बताया कि हज हाउज़ की आहक पाशी-ओ-रंग-ओ-रोगन के तमाम कामों को माहे रमज़ान उल-मुबारक की आमद से क़बल(पहले) मुकम्मल कर लेने की हिदायत दी गई है । मुकम्मल हज हाउज़ की रोज़ाना झारु कशी के मामले में जो कोंट्रेक‌ दिया जाएगा इस में स्लब सिस्टम कर दिया गया है ताकि हज हाउज़ में सफ़ाई को यक़ीनी बनाया जा सके । आंधरा प्रदेश रियासती वक़्फ़ बोर्ड हज हाउज़ के रंग-ओ-रोगन के अख़राजात की अदाएगी करेगा और तमाम उमूर का दीगर इदारा जात के सरबराहान से तबादला ख़्याल के बाद क़तई फैसला किया जाएगा

TOPPOPULARRECENT