Friday , October 20 2017
Home / Islami Duniya / हमले बंद किए जाएं, तब ही मुज़ाकरात हो सकते हैं, हूसी

हमले बंद किए जाएं, तब ही मुज़ाकरात हो सकते हैं, हूसी

यमन में हूसी बाग़ीयों ने तनाज़े के हल के लिए मुज़ाकरात पर आमादगी ज़ाहिर की है। हूसियों के तर्जुमान मुहम्मद अबदूस्सलाम के मुताबिक़ बातचीत का सिलसिला उसी वक़्त शुरू हो सकता है, जब सऊदी अरब और इस के इत्तिहादी अपने फ़िज़ाई हमले मुकम्मल तौर प

यमन में हूसी बाग़ीयों ने तनाज़े के हल के लिए मुज़ाकरात पर आमादगी ज़ाहिर की है। हूसियों के तर्जुमान मुहम्मद अबदूस्सलाम के मुताबिक़ बातचीत का सिलसिला उसी वक़्त शुरू हो सकता है, जब सऊदी अरब और इस के इत्तिहादी अपने फ़िज़ाई हमले मुकम्मल तौर पर रोकें।

उन्हों ने मज़ीद कहा कि ये मुज़ाकरात अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की निगरानी में होने चाहियें। दूसरी जानिब सऊदी अरब ने आज सुबह एक मर्तबा फिर यमन में हूसी बाग़ीयों के मुख़्तलिफ़ ठिकानों पर बमबारी की।

ऐनी शाहिदीन के मुताबिक़ और ताज़ के इलावा दीगर शहरों को भी निशाना बनाया गया। अक़वाम-ए-मुत्तहिदा के सेक्रेटरी जनरल बाण की मौन ने यमन की सूरत-ए-हाल पर तशवीश का इज़हार किया है

TOPPOPULARRECENT