Thursday , August 17 2017
Home / Khaas Khabar / हम ऐसा राम मंदिर नहीं चाहते जो हिन्दू ,मुसलमान के खून से सना हो : महंत ज्ञानदास

हम ऐसा राम मंदिर नहीं चाहते जो हिन्दू ,मुसलमान के खून से सना हो : महंत ज्ञानदास

अयोध्या : अयोध्या में राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद को सुलझाने की कोशिशें तेज हो गई हैं। राम गढ़ी के महंत ज्ञानदास, बाबरी मस्जिद के मुद्दई हाशिम अंसारी और अनुयायी हाजी महबूब ने इस दिशा में पहल की है। उनका कहना है कि राम मंदिर का निर्माण आपसी सहमति से होनी चाहिए। ईद के मौके पर महंत ज्ञानदास गुरुवार को हाशिम अंसारी के घर पहुंचे और उसने गले मिलकर उन्हें बधाई दी। बताया जाता है कि इस अवसर पर ज्ञानदास ने हाशिम अंसारी और हाजी महबूब के साथ घंटों राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद पर बातचीत की।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान ज्ञानदास ने कहा कि राम मंदिर और बाबरी मस्जिद विवाद का समाधान आपसी सहमति के साथ होना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह ऐसा राम मंदिर नहीं चाहते हैं, जो हिंदू या मुसलमानों के खून से सुना हुआ हो। दूसरी ओर हाशिम अंसारी ने ज्ञानदास की पहल का स्वागत करते हुए कहा कि जो भी ज्ञानदास कहेंगे, वही करेंगे। इस मौके पर हाजी महबूब ने भी ज्ञानदास की हां में हां मिलाते हुए कहा कि हम राम मंदिर के खिलाफ नहीं हैं। हम चाहते हैं कि आपसी सहमति से राम मंदिर का निर्माण हो।

TOPPOPULARRECENT