Friday , August 18 2017
Home / Politics / हरियाणा: जाट आंदोलन को लेकर हाई अलर्ट जारी, प्रशासन की नज़रें रैली पर

हरियाणा: जाट आंदोलन को लेकर हाई अलर्ट जारी, प्रशासन की नज़रें रैली पर

सोनीपत। प्रस्तावित जाट आंदोलन रविवार यानी आज से शुरू हो रहा है जिसके मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। आंदोलन को देखते हुए जगह-जगह रैपिड एक्शन फोर्स की तैनाती की गई है। जींद में जाटों का धरना प्रदर्शन शुरू हो चुका है यहां 12 बजे रैली होगी। वहीं रोहतक के उपायुक्त ने बताया कि 6 संगठनों ने बातचीत के बाद आंदोलन वापस ले लिया है और यहां हालात सामान्य बने हुए हैं। जाट आंदोलन को लेकर गुड़गांव के इफको चौक पर पुलिस को अलर्ट रहने को कहा गया है। बहादुरगढ़ के डीएसपी धीरज कुमार ने बताया कि अगर कोई कानून और शांति व्यवस्था भंग करने का प्रयास करता पाया गया तो उसके खिलाफ त्वरित और कड़ी कार्रवाई की जाएगी। हरियाणा में जाट आंदोलन को लेकर भारी संख्या में अर्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं। यहां जाट आंदोलन को लेकर हाई अलर्ट घोषित किया गया है और 8 जिलों में धारा 144 लागू है। सोनीपत में इंटरनेट बंद कर दी गई है।

आज से शुरू हो रहे जाट आंदोलन के चलते शनिवार शाम को सोनीपत में इंटरनेट सर्विस और बल्क मैसेज पर बैन लगा दिया गया. पिछली बार हिंसा प्रभावित जिलों में धारा 144 लागू है। 9 जिलों में पैरामिलिट्री फोर्स की 41 कंपनियां सुरक्षा में तैनात किए गए हैं। आंदोलन को देखते हुए पुलिसकर्मियों की छुटि्टयां कैंसल कर दी गई है।

सोनीपत के जिलाधिकारी के. मकरंद पांडुरंग ने जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने के संबंध में शनिवार को आदेश जारी किया जो बीती रात से अगले आदेश तक प्रभावी रहेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि ऐसी संभावना थी कि मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का इस्तेमाल गलत सूचना और अफवाह फैलाने के लिए किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इन सेवाओं का इस्तेमाल अवैध गतिविधियों में भी किया जा सकता था जैसे सडक, राजमार्ग और रेल पटरियां अवरुद्ध करना, सरकारी सम्पत्ति को क्षतिग्रस्त करना और आवश्यक सेवा एवं खाद्य आपूर्ति बाधित करना।

TOPPOPULARRECENT