Wednesday , October 18 2017
Home / Khaas Khabar / हरियाणा : पुलिसकर्मियों को बक़रीद से पहले ‘बिरयानी में बीफ़ सूंघने’ का आदेश

हरियाणा : पुलिसकर्मियों को बक़रीद से पहले ‘बिरयानी में बीफ़ सूंघने’ का आदेश

चंडीगढ़ : हरियाणा में बीफ नाम का जिन्न एक बार फिर सिर उठाने लगा है.’द टाइम्स ऑफ़ इंडिया’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ हरियाणा में पुलिस को ज़िम्मेदारी दी गई है कि वो बाज़ार में बिकने वाली बिरयानी की जाँच करें और पता लगाएं कि कहीं उसमें बीफ़ तो नहीं है. मेवात ज़िले के पुलिसकर्मियों को बक़रीद से पहले ‘बिरयानी में बीफ़ सूंघने’ का आदेश दिया गया है. राज्य सरकार के गौ सेवा आयोग ने राज्य के मुस्लिम बहुल इलाक़े में त्यौहार से पहले पुलिसकर्मियों को बिरयानी बेचने वालों की जांच करने के लिए कहा है.

बिरयानी की आड़ में बीफ परोसे जाने की खुफिया जानकारी पर सरकार सख्त हो गई है. वैसे तो बीफ को लेकर हरियाणा की मनोहर सरकार पहले ही सख्त कानून बना चुकी है. हरियाणा में बीफ पूरी तरह से बैन है. लेकिन बावजूद इसके कुछ जगहों पर अवैध तरीके से बीफ परोसे जाने की गंभीर शिकायतें मिल रही हैं.

नैशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो (NCRB) के डेटा के अनुसार उत्तर प्रदेश के बाद हरियाणा में सबसे ज्यादा क्राइम रिपोर्ट होते हैं। हरियाणा सरकार के बीफ बैन करने के बाद से क्राइम रेट में आई तेजी को रोकना खट्टर सरकार की प्राथमिकता में नहीं है। सरकार यह जांचने में ज्यादा बिजी है कि सड़क किनारे बिक रही बिरयानी गोमांस से तो नहीं बनी।

राज्य के गोसेवा आयोग ने पुलिस को मुस्लिम बहुल मेवात जिले में दुकानों से बिरयानी के सैंपल लेने को कहा है। पुलिस का काम यह जांचने का है कि कहीं बिरयानी बनाने में गोमांस का प्रयोग तो नहीं हो रहा। हरियाणा पुलिस ने भी इस सरकारी हुक्म की तामील शुरू कर दी है. आयोग के चेयरमैन भनी राम मंगला ने कहा कि ऐसा काफी शिकायतें आने के बाद किया गया है। लोगों की शिकायतें आ रहीं थीं कि लोकल वेंडर गोमांस से बिरयानी बना रहे हैं।

मेवात के बाद अन्य राज्यों में भी इसी तरह की जांच की जाएगी। इसी महीने बकरीद भी है। मंगला के साथ हरियाणा पुलिस के स्पेशल टास्क डीएसपी भारती अरोड़ा ने पुलिस को गो तस्करी, गोहत्या की जांच करने के काम में लगा दिया है। मंगलवार को पुलिस ने स्थानीय लोगों से बात से बात की और दुकानों से बिरयानी के सैंपल लिए।

TOPPOPULARRECENT