Tuesday , August 22 2017
Home / Crime / हर 5 दिन में दहेज प्रताडऩा से 2 महिलाओं की होती है मौत : दिल्ली पुलिस

हर 5 दिन में दहेज प्रताडऩा से 2 महिलाओं की होती है मौत : दिल्ली पुलिस

दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने चौंकने वाला खुलासा किया है। दिल्ली मेन हर पाँच दिन में दहेज प्रताड़णा से दो औरतों की जान जाती है। ये खुलासा दिल्ली पुलिस ने जनवरी से लेकर 31 जुलाई तक के आंकड़े की बुनियाद पर किया है। इन आंकड़ों ने भारतीए समाज में शादियों के पीछे काले सच का बेपरदा किया है।

दिल्ली पुलिस के इस साल दहेज प्रताड़ना के मामले 15 से 20 फीसद तक की उछाल आई है। इन मामलों में औरतों पर शौहर और ससुराल वालों ने क्रूरता की है। पुलिस ने इस साल 31 जुलाई तक दहेज से होने वाली औरतों की मौत के 92 केसेज दर्ज़ किए हैं।

तिहाड़ जेल में नंबर 6 खास तौर से सास-ननद बैरक के नाम से मशहूर है। इस विंग में दहेज प्रताड़ना के इल्ज़ाम में सास और ननदें ही कैद हैं। जेल के अफसर न बताया की इस बैरक में बंद ननदों की उम्र 18 से 26 साल के बीच में हैं। ये सभी अपनी आने वाली ज़िंदगी को लेकर ज़्यादा तनाव में हैं। यूनिसेफ की मदद से जनवादी महिला समिति की ओर से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक दहेज के बढ़ रहे मामलों की वजह से मध्य प्रदेश में 60 फीसद, गुजरात में 50 फीसद और आंध्र प्रदेश में 40 फीसद लड़कियों ने माना की दहेज की बिना उनकी शादी होना मुश्किल हो गया है।

TOPPOPULARRECENT