Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / हिंदुस्तान और सऊदी अरब के दरमयान ताल्लुक़ात में बेहतरी

हिंदुस्तान और सऊदी अरब के दरमयान ताल्लुक़ात में बेहतरी

हैदराबाद 8 फ़रवरी ( सियासत न्यूज़) हिंदुस्तान में सऊदी सफ़ीर डाक्टर मुहम्मद सऊद अल साती ने हैदराबाद की नुमाइंदा शख़्सियतों को यक़ीन दिलाया कि आज़मीन उमरा के लिए सऊदी हुकूमत ने जो सख़्त क़वानीन बनाए हैं उन में तरमीम के सिलसिला मे

हैदराबाद 8 फ़रवरी ( सियासत न्यूज़) हिंदुस्तान में सऊदी सफ़ीर डाक्टर मुहम्मद सऊद अल साती ने हैदराबाद की नुमाइंदा शख़्सियतों को यक़ीन दिलाया कि आज़मीन उमरा के लिए सऊदी हुकूमत ने जो सख़्त क़वानीन बनाए हैं उन में तरमीम के सिलसिला में वो नुमाइंदगी करेंगे ताकि हिंदुस्तानी आज़मीन उमरा को सऊदी अरब रवानगी में दुशवारी ना हो।

उन्हों ने उम्मीद ज़ाहिर की कि हैदराबाद में बहुत जल्द सऊदी अरब का क़ौंसलख़ाना क़ायम हो जाएगा और मर्कज़ी हुकूमत जल्द उस की मंज़ूरी देगी। डाक्टर मुहम्मद सऊद आज साबिक़ रियास्ती वज़ीर मुहम्मद अली शब्बीर की क़ियामगाह पर अहम सयासी, समाजी, मज़हबी, सक़ाफ़ती और शहर की नुमाइंदा शख़्सियतों की एक नशिस्त से ख़िताब कर रहे थे जो उन के एज़ाज़ में मुनाक़िद की गई थी। ,

जनाब सैयद वक़ार उद्दीन एडीटर रहनुमाए दक्कन, जनाब आमिर अली ख़ांन न्यूज़ एडीटर सियासत, जनाब ख़ान लतीफ़ ख़ान एडीटर मुंसिफ़, जनाब इबराहीम बिन अबदुल्लाह मसक़ती, हाफ़िज़ पीर शब्बीर अहमद अरकान क़ानूनसाज़ कौंसिल, डायरेक्टर जेनरल पुलिस दिनेश रेड्डी, कमिशनर पुलिस अनुराग शर्मा, इंटेलिजेंस चीफ़ महेन्द्र रेड्डी,

नायब सदर नशीन और मैनेजिंग डायरेक्टर आर टी सी ए के ख़ांन, मेयर ग्रेटर हैदराबाद माजिद हुसैन,डिप्टी मेयर राजकुमार, अरकाने पार्लियामेंट अंजन कुमार यादव, सुरेश शेटकर, साबिक़ वज़ीर फ़रीद उद्दीन, मौलाना अबदुल्ला क़ुरैशी , अमीर जमात-ए-इस्लामी आंध्र प्रदेश ख़्वाजा आरिफ़ उद्दीन, सदर नशीन हज कमेटी ख़लील उद्दीन अहमद, मौलाना रहीम क़ुरैशी, मौलाना हसाम उद्दीन सानी जाफ़र पाशा, डाक्टर वज़ारत रसूल ख़ांन, चेयरमैन एन टी वी चौधरी, ज़फ़र जावेद,

मौलाना सैयद मज़हर हुसैनी, पीर शब्बीर नक़्शबंदी, मुहम्मद अज़हर उद्दीन ( जमात-ए-इस्लामी), रहीम उद्दीन अंसारी और दीगर शख्सियतें शरीक थीं। इब्तिदा में मुहम्मद अली शब्बीर ने ख़ौर मक़दम किया और कहा कि हैदराबाद में सऊदी कौंसलेट के क़ियाम का तवील अर्सा से मुतालिबा किया जा रहा है।

उन्हों ने बताया कि हर साल हज कमेटी और ख़ानगी आपरेटर्स के ज़रीए आंध्र प्रदेश से 12 हज़ार मुस्लमान फ़रीज़ा हज के लिए रवाना होते हैं जब कि उमरा के लिए हर साल तक़रीबन 50 हज़ार अफ़राद सऊदी अरब रवाना होते हैं।
एक बड़ी तादाद सऊदी अरब के मुख़्तलिफ़ शहरों में मुलाज़मत कर रही है, इन हालात में हैदराबाद में कौंसलेट के क़ियाम की ज़रूरत शिद्दत से महसूस की जा रही है।

TOPPOPULARRECENT