Friday , October 20 2017
Home / Sports / हिंदुस्तान की ओलम्पिक रुक्नियत बहाल

हिंदुस्तान की ओलम्पिक रुक्नियत बहाल

तक़रीबन एक साल‌ बाद हिंदुस्तान की ओलम्पिक रुक्नियत बहाल करदी गई है जैसा कि हिंदुस्तानी ओलम्पिक कमेटी में बद उनवान ओहदेदारों को बर्ख़ास्त करते हुए इसके साफ़-ओ-शफ़्फ़ाफ़ इंतिख़ाबात और नए ओहदेदारों के बाद इंटरनेशनल ओलम्पिक कमेटी ने

तक़रीबन एक साल‌ बाद हिंदुस्तान की ओलम्पिक रुक्नियत बहाल करदी गई है जैसा कि हिंदुस्तानी ओलम्पिक कमेटी में बद उनवान ओहदेदारों को बर्ख़ास्त करते हुए इसके साफ़-ओ-शफ़्फ़ाफ़ इंतिख़ाबात और नए ओहदेदारों के बाद इंटरनेशनल ओलम्पिक कमेटी ने इस पर आइद पाबंदी को बर्ख़ास्त कर दिया है।

इंटरनेशनल ओलम्पिक एसोसीएश‌ण ने 14 माह बाद इंडियन ओलम्पिक एसोसीएश‌ण (आई ओ ए) पर आइद पाबंदी को बर्ख़ास्त कर दिया है चूँकि इतवार को आई ओ ए के इंतिख़ाबात हुए जिस में हिंदुस्तानी क्रिकेट बोर्ड बी सी सी आई के सदर एन श्रीनिवासन के छोटे भाई एन रामाचंद्रन बहैसियत सदर मुंतख़ब हुए हैं।

ख़बररसां एजेंसी पी टी आई से इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए आई ओ ए के नौमुंतख़ब सेक्रेटरी जनरल राजीव महित ने कहा है कि इंटरनेशनल ओलम्पिक कमेटी ने हमें टेलीफ़ोन करते हुए मतला किया है कि एसोसीएश‌ण पर आइद पाबंदी बर्ख़ास्त करदी गई है। आई ओ सी के सदर को हिंदुस्तानी ओलम्पिक कमेटी के हालिया इंतिख़ाबात की जो रिपोर्ट इस के मुबस्सिरीन की जानिब से फ़राहम की गई, उस पर बैनुल-अक़वामी तंज़ीम ने इतमीनान का इज़हार करते हुए हिंदुस्तान की रुक्नियत को बहाल कर दिया है।

हिंदुस्तान की रुक्नियत बहाल होने के बाद अब रूस में रवां सूची ओलम्पिकस में शिरकत कररहे हिंदुस्तानी अथलिट क़ौमी पर्चम तिरंगा के तले मुक़ाबलों में शिरकत करेंगे क्योंकि पाबंदी की वजह से हिंदुस्तानी अथलिटस इन मुक़ाबलों में क़ौमी पर्चम के बजाय ओलम्पिकस के झंडे तले मुक़ाबलों में शिरकत कररहे हैं।

TOPPOPULARRECENT