Sunday , October 22 2017
Home / India / हिंदुस्तान के साथ पाकिस्तान भी सलामती कौंसल का रुकन बन सकता है

हिंदुस्तान के साथ पाकिस्तान भी सलामती कौंसल का रुकन बन सकता है

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा, 21 अक्तूबर (यू एन आई) अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की 15 रुकनी सलामती कौंसल के लिए जुमा को होने वाले सालाना इंतिख़ाब में पाकिस्तान भी आरिज़ी रुकन के तौर पर एक नशिस्त जीत कर अपने रिवायती हरीफ़ हिंदूस्तान के साथ सलामती कौंसल में

अक़वाम-ए-मुत्तहिदा, 21 अक्तूबर (यू एन आई) अक़वाम-ए-मुत्तहिदा की 15 रुकनी सलामती कौंसल के लिए जुमा को होने वाले सालाना इंतिख़ाब में पाकिस्तान भी आरिज़ी रुकन के तौर पर एक नशिस्त जीत कर अपने रिवायती हरीफ़ हिंदूस्तान के साथ सलामती कौंसल में शामिल हो सकता है।

कल के इस इलैक्शन के बाद रुकन ममालिक की मीयाद कार यक्म जनवरी 2012 से 31 दिसंबर 2013 तक यानी दो साल होगी।

पाकिस्तान और कर्गिस्तान एशियाई मुल्कों के लिए दस्तयाब एक नशिस्त के लिए मुक़ाबला आराई(Conduct) कर रहे हैं। हिंदुस्तान को इस बरस सलामती कौंसल की आरिज़ी रुकनीयत मिली है और 2012 तक वो इस का रुकन रहेगा।

TOPPOPULARRECENT