Monday , October 23 2017
Home / World / हिंदूस्तान में करप्शन सब से बड़ा मौज़ू , बीबी सी का सर्वे

हिंदूस्तान में करप्शन सब से बड़ा मौज़ू , बीबी सी का सर्वे

लंदन 14 दिसमबर (पी टी आई) हिंदूस्तान में जिस मौज़ू पर सब से ज़्यादा बातचीत की जाती है, वो करप्शन है जबकि बेरोज़गारी दुनिया में तेज़ तरीन रफ़्तार से बढ़ता हुआ ख़तरा है। बीबी सी की जानिब से 23 ममालिक में 11 हज़ार अफ़राद का सर्वे किया गया।

लंदन 14 दिसमबर (पी टी आई) हिंदूस्तान में जिस मौज़ू पर सब से ज़्यादा बातचीत की जाती है, वो करप्शन है जबकि बेरोज़गारी दुनिया में तेज़ तरीन रफ़्तार से बढ़ता हुआ ख़तरा है। बीबी सी की जानिब से 23 ममालिक में 11 हज़ार अफ़राद का सर्वे किया गया। सर्वे केनताइज से जो गुज़शता 4 माह से जारी था, ज़ाहिर होता है केहिंदूस्तान में करप्शन के मौज़ू पर सब से ज़्यादा बातचीत की जाती है।

बीबी सी की जानिब से हर साल आलमगीर सर्वे किया जाता है, जिस में तक़रीबन एक चौथाई नुमाइंदा अफ़राद से सवालात किए जाते हैं। सर्वे के हिंदूस्तान में नताइज से ज़ाहिर होता है केदूसरा सब से बड़ा बातचीत का मौज़ू ग़ुर्बत है, जो आलमगीर सतह पर भी जुमला आबादी के 20 फ़ीसद का सब से बड़ा मौज़ू है। बेरोज़गारी पर 18 फ़ीसद अफ़राद सब से ज़्यादा बातचीत करते हैं। गुज़शता सर्वे में जो 2009-ए-में किया गया था, बेरोज़गारी का मसला इतने ज़्यादा अफ़राद की बातचीत कामौज़ू नहीं था और ना इतने ज़्यादा ममालिक में इस पर बातचीत की जाती थी।

घाना, मैक्सीको, नाईजीरिया और तुर्की इन दीगर ममालिक में शामिल थे, जहां करप्शन का मसला सब से ज़्यादा बाइस तशवीश था। एक तिहाई या इस से ज़्यादा अफ़राद ने कहाकि उन्हों ने इस मसला पर एक माह क़बल किए हुए सर्वे में भी रोशनी डाली थी हालाँकि इन ममालिकमें काफ़ी बेरोज़गारी है, लेकिन अवाम को सब से ज़्यादा तशवीश करप्शन की मालूम होती है।

TOPPOPULARRECENT