Saturday , May 27 2017
Home / Khaas Khabar / हिंदू-मुस्लिम छात्रों ने मिलकर यौन उत्पीड़न से 9 साल की लड़की को बचाया

हिंदू-मुस्लिम छात्रों ने मिलकर यौन उत्पीड़न से 9 साल की लड़की को बचाया

हैदराबाद: एक स्कूली लड़की के साथ यौन उत्पीड़न करने का मामला सामने आया है। लड़की स्कूल से लौट रही थी तभी एक व्यक्ति ने उस पर हमला किया। लेकिन वहां से गुजर रहे तीन हिंदू और एक मुस्लिम लड़कों ने उसे बचा लिया।

नरसिंह, सत्यनारायण, निखिल और मुजीब शापुर रास्ते से जा रहे थे तभी उनलोगों ने रास्ते पर एक बाइक खड़ी देखी, जिस पर एक स्कूल बैग लटका हुआ था। जब उन्होंने सर्च किया जो पाया कि एस. शरतचारी नाम का व्यक्ति, जो कि बढ़ई का काम करता है, ने 9 साल की एक स्कूली लड़की के साथ जोर-जबर्दस्ती कर रहा है। चारों ने शरतचारी को पकड़ लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

स्थानिय पुलिस ने बताया, “लड़की मखदूम नगर की रहने वाली है। जब वो अपने स्कुल बस से उतर कर अपने घर की तरफ पैदल जा रही थी तभी शरतचारी ने उसे देखा और अपना मोटरसाइकल बंद कर दिया और उसे उसके घर तक ड्रॉप करने की पेशकश की।

एसआई लालकृष्ण लिंगया ने बताया कि लड़की को बैठाने के बाद उसने अपनी बाइक शापुर से दूसरी तरफ ले गया और लड़की के साथ मारपीट की। तभी वहां से गुजर रहे नारसिंह, सत्यनारायण, निखिल और मुजीब ने बाइक को खड़ी देखी और उन्हें कुछ गड़बड़ लगा। उनलोगों ने जब तलाशी ली तो शरतचारी को लड़की के साथ जबर्दस्ती करते पाया। पकड़े जाने के बाद शरतचारी ने कहा है कि वह लड़की का चचेरा भाई है। लेकिन उससे और पूछताछ की गई तो वो अकबकाने लगा।

एसआई ने बताया कि उसके बाद शरत लड़की को लेकर पुलिस के पास आया। शरत ने पुलिस को यौन शोषण वाले घटना के बारे में बताया। फिलहाल धारा 376 और भारतीय दंड संहिता की पोस्को अधिनियम 511 के तहत मामला दर्ज किया गया है और शरतचारी को हिरासत में भेज दिया गया है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT