Sunday , October 22 2017
Home / Bihar News / हिन्दू-मुस्लिम इत्तिहाद का बड़ा पैरोकार नहीं रहा : नीतीश

हिन्दू-मुस्लिम इत्तिहाद का बड़ा पैरोकार नहीं रहा : नीतीश

रियासत के साबिक़ वजीरे आला नीतीश कुमार ने उर्दू के नामी शायर, दानिश्वरमंद और देशभक्त प्रो. कलीम आजिज के वफ़ात पर गहरा गम ज़ाहिर किया है। पैगाम में नीतीश कुमार ने कहा कि पद्मश्री से एजाज़ प्रो.

रियासत के साबिक़ वजीरे आला नीतीश कुमार ने उर्दू के नामी शायर, दानिश्वरमंद और देशभक्त प्रो. कलीम आजिज के वफ़ात पर गहरा गम ज़ाहिर किया है। पैगाम में नीतीश कुमार ने कहा कि पद्मश्री से एजाज़ प्रो. कलीम आजिज साहब की वफ़ात की खबर पाकर गहरा सदमा हुआ है। बिहार की उर्दू परामर्शदात्री कमेटी के सदर रहे कलीम आजिज को मीर स्कूल का आखिरी शायर बताया जाता है। उनके जाने से उर्दू अदीब का एक चमकता सितारा तो बुझ ही गया, बिहार की हिन्दू-मुस्लिम इत्तिहाद का एक बड़ा पैरोकार भी नहीं रहा। नीतीश कुमार ने कहा कि अपने रियासत बिहार और अपने गांव तेलहारा, नालंदा से आजिज साहब का गहरा लगाव था। इनके लेखन में यह सब खूब झलकता है। हमलोगों के लिए गार्जियन जैसे रहे कलीम आजिज साहब कुछ वक़्त से बीमार चल रहे थे। नीतीश कुमार ने कलीम आजिज के फी खिराजे अक़ीदत ज़ाहिर करते हुए खुदा से दुआ की कि उनके अहले खाना को गम ङोलने की ताक़त मिले।

TOPPOPULARRECENT