Monday , September 25 2017
Home / Khaas Khabar / हिरोशिमा पर एटम बम गिराने वाला अमरीका कर रहा है हिरोशिमा-स्मारक का दौरा

हिरोशिमा पर एटम बम गिराने वाला अमरीका कर रहा है हिरोशिमा-स्मारक का दौरा

In this Sept. 5, 1945, file photo, the skeleton of a Catholic Church, foreground, and an unidentified building, center, are all that remaining the blast center area after the atomic bomb of Hiroshima, Japan. On two days in August 1945, U.S. planes dropped two atomic bombs, one on Hiroshima, one on Nagasaki, the first and only time nuclear weapons have been used. Their destructive power was unprecedented, incinerating buildings and people, and leaving lifelong scars on survivors, not just physical but also psychological, and on the cities themselves. Days later, World War II was over. (AP Photo, File)

अमेरिका के हिरोशिमा पर एटम बम गिराए जाने के सात दशक बाद अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी आज यहां इस त्रासद घटना के श्रेद्धेय स्मारक आए। उन्होंने शांति का संदेश दिया और परमाणु मुक्त विश्व की कामना की। इतिहास में पहली बार अमेरिका ने ही हिरोशिमा पर परमाणु हथियार का इस्तेमाल किया था और इस हमले में 1.4 लाख लोग मारे गए थे। इस घटना के बाद केरी हिरोशिमा आने वाले अमेरिका के सबसे उच्च पदस्थ अधिकारी हैं।

केरी ने सात औद्योगिक देशों  के अन्य विदेश मंत्रियों के साथ इस शांति संग्रहालय का दौरा किया और यहां पास ही स्थित पार्क में पत्थर से बने धनुषाकार स्मारक पर पुष्पाहार अर्पित किया। यहां से कुछ ही दूरी पर हिरोशिमा की पहचान माना जाने वाला ‘अटॉमिक बॉम्ब डोम’ था, जो इस बम हमले का शिकार बनी इमारत है। बम हमले में क्षतिग्रस्त हुई इस इमारत के गुंबद के छड़ें साफ नजर आती हैं।

अमेरिका समेत जी सात देशों के झंडे लिए खड़े लगभग 800 जापानी लोग इस अवसर पर छाई उदासी को दूर कर रहे थे।

कैरी ने इस अवसर पर सार्वजनिक तौर पर संबोधन तो नहीं किया लेकिन इस दौरान वह जापानी विदेशमंत्री और हिरोशिमा के मूल निवासी फुमियो किशिदा की बांह थामकर उनके कान में कुछ कहते नजर आए।

(पीटीआई-भाषा के सौजन्य से)

TOPPOPULARRECENT