Thursday , August 24 2017
Home / World / हिलेरी ने परमाणु करार के लिए भारतीय लिडरों से लिए थे पैसे : ट्रंप

हिलेरी ने परमाणु करार के लिए भारतीय लिडरों से लिए थे पैसे : ट्रंप

वाशिंगटन : रिपब्लिकन पार्टी के तरफ से अमेरिकी चुनाव में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने प्रतिद्वंदी डेमोक्रेट्स की हिलेरी क्लिंटन पर भ्रष्‍टाचार के संगीन इल्जाम लगाए हैं। उन्‍होंने कहा है कि हिलेरी ने 2008 में भारत-अमेरिका असैन्य परमाणु करार के बदले में भारतीय राजनेताओं और संस्थाओं से पैसे लिए थे।

ट्रंप कैंपेन की तरफ से ये इल्जाम 35 पन्नों वाली एक किताब में लगाए हैं, लेकिन इनमें से कोई भी नए इल्जाम नहीं हैं। हिलेरी क्लिंटन अतीत में कई बार ऐसे आरोपों का खंडन कर चुकी हैं।

ट्रंप कैंपेन बुकलेट के जरीये जारी किए गए एक बयान में इस बारे में 50 सुबुतों के द्वारा जानकारी दी गई है। साथ ही तफसील में क्लिंटन के रिकार्ड के बारे में भी जानकारी दी गई है।

न्यूयार्क टाइम्स की रिपोर्ट की रिपोर्ट का हवाला देते हुए ट्रम्प ने आरोप लगाया है कि 2008 की शुरुआत में भारतीय राजनेता अमर सिंह ने क्लिंटन फाउंडेशन को 10 लाख से लेकर 50 लाख अमेरिकी डॉलर तक का भुगतान किया था।

ट्रंप ने इल्जाम लगाया है कि, ‘भारत-अमेरिका असैन्य परमाणु करार के लिए लॉबी करने के लिए सितंबर 2008 में अमर सिंह ने अमेरिका का दौरा किया था। उसके बाद सीनेटर क्लिंटन ने अमर को आश्वस्त किया था कि डेमोक्रेट्स डील का विरोध नहीं करेंगे।’

इस बुकलेट में यह भी कहा गया है कि 2008 में भारतीय उद्योग परिसंघ ने क्लिंटन फाउंडेशन को 5-10 लाख अमेरिकी डॉलर का भुगतान किया था।

ट्रंप की तरफ से यह भी कहा गया है कि भारतीय-अमेरिकी राज फर्नाडों गृह विभाग के अन्तर्राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड में जगह दी गई थी। फर्नाडो पर आरोप लगाया गया है कि उसने क्लिंटन फाउंडेशन को 10 लाख से लेकर 50 लाख अमेरिकी डॉलर का भुगतान किया था।

TOPPOPULARRECENT