Wednesday , September 20 2017
Home / Delhi / Mumbai / हुर्रियत से बातचीत शुरू करने की सिफारिश

हुर्रियत से बातचीत शुरू करने की सिफारिश

नई दिल्ली: यशवंत सिन्हा के नेतृत्व सियोल सोसायटी पैनल ने जम्मू कश्मीर में मानव अधिकारों की स्थिति में सुधार और सभी पक्षों सहित अलगावादी समूहों जैसे हुर्रियत से बातचीत‌ शुरू करने का प्रस्ताव है। चिंता से पीड़ित नागरिकों के एक समूह ने पिछले महीने कश्मीर घाटी का दौरा करने के बाद फिर एक बार सिफारिशें की हैं जिनमें महरूस रखे गए कमसिन बच्चों की मनोवैज्ञानिक परामर्श पर भी जोर दिया गया।

पैनल ने इससे पहले अक्टूबर में घाटी का दौरा किया था और स्कियोरटी फ़ोर्सस से थाली गनस का उपयोग त्वरित रोकने की सिफारिश की थी। केंद्र ने भाजपा नेता के नेतृत्व इस पैनल से खुद को उदासीन कर लिया है। इस पैनल पूर्व मुख्य सूचना आयुक्त वजाहत हबीबुल्ला और कार्यक्रम निदेशक सेंटर फॉर संवाद और फिर कंसी लेयशन शशोबा भार्वे होता है।

पैनल ने पिछले महीने कश्मीर घाटी का दौरा किया और कहा कि यहां मानवाधिकार की स्थिति में सुधार की जरूरत है और स्कियोरटी फ़ोर्सस को जनता के साथ अधिक से अधिक मानव व्यवहार करने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT