Monday , October 23 2017
Home / District News / हुसूले तेलंगाना के लिए मुशतरका जद्द-ओ-जहद ज़रूरी

हुसूले तेलंगाना के लिए मुशतरका जद्द-ओ-जहद ज़रूरी

निज़ामाबाद ,02‍‍ फरवरी: अलैहदा रियासत तेलंगाना के क़ियाम की एहमीयत रोज़ अफ़्ज़ूँ बढ़ती जा रही है अलैहदा तेलंगाना रियासत क़ियाम के बाद तेलंगाना की अवाम और नई नसल को ज़बरदस्त तरक़्क़ियात से हमकनार होने के मौक़े हासिल होंगे।इन ख़्यालात का इज़ह

निज़ामाबाद ,02‍‍ फरवरी: अलैहदा रियासत तेलंगाना के क़ियाम की एहमीयत रोज़ अफ़्ज़ूँ बढ़ती जा रही है अलैहदा तेलंगाना रियासत क़ियाम के बाद तेलंगाना की अवाम और नई नसल को ज़बरदस्त तरक़्क़ियात से हमकनार होने के मौक़े हासिल होंगे।इन ख़्यालात का इज़हार जनाब मुहम्मद अहमद सैक्रेटरी करसपानडनट असटानरच इंटरनैशनल स्कूल निज़ामाबाद ने अलैहदा तेलंगाना रियासत की एहमीयत और इफ़ादीयत पर असटानरच इंटरनैशनल स्कूल पर मुनाक़िदा जलसा तालिबात और असातिज़ा के अहम तरीन इजलास से अपने ख़िताब में किया।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना के हुसूल के लिए जमहूरी अंदाज़ में मुम्किना पुरअमन जद्द-ओ-जहद करना वक़्त की अहम तरीन ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि आज तेलंगाना के चप्पे चप्पे में ज़ईफ़, नौजवान, बच्चे,मर्द और ख़वातीन में जज़बा हुब्बुलव्तनी मौजूद है।
इससे पहले प्रोग्राम का आग़ाज़ तेलंगाना के नग़मात हुब्बुलव्तनी और सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा से हुआ।

जिस को मुतरन्निम अंदाज़ में असटानरच इंटरनैशनल स्कूल के तलबा‍ -ओ- तालिबात ने पेश किया। जनाब अहमद ने कहा कि हुसूल तेलंगाना के लिए पुरतशद्दुद एहतिजाज और ख़ुदकुशियों से इजतिनाब करें ताकि क़ियाम तेलंगाना के बाद इस के समरात से मुस्तफ़ीद हो सकें।

उन्होंने अलेहदा रियासत तेलंगाना के लिए जद्द-ओ-जहद करनेवाली जमातों के क़ाइदीन और तेलंगाना के अवामी जज़बा
हुब्बुलव्तनी को ख़राज पेश किया और कहा कि क़ियाम तेलंगाना के बाद अवाम के तमाम तबक़ात इत्तिहाद-ओ-यकजहती से रहेंगे। उन्होंने तलबा‍-ओ- तालिबात को मश्वरा दिया कि वो आला तालीम हासिल करते हुए रियासत तेलंगाना और मुल्क‍ ओर क़ौम के इलावा अपने वालदैन का नाम रोशन करें और रियासत तेलंगाना के मुल्क के एक मिसाली, पुरअमन तरक़्क़ी पज़ीर रियासत बनने में अपनी ख़िदमात को पेश रखें।

जनाब अहमद ने ऐलान किया कि वो मर्कज़ी हुकूमत क़ियाम तेलंगाना के ऐलान के फ़ौरी बाद तेलंगाना दी वर्ल्ड स्कूल के नाम से एक अज़ीमुश्शान तालीमी इदारे का निज़ामाबाद में क़ियाम अमल में लाएगें। आख़िर में क़ियाम तेलंगाना के लिए ख़ुसूसी दुआ के एहतिमाम के बाद प्रोग्राम का इख़तेताम अमल में लाया गया।

TOPPOPULARRECENT