Monday , October 23 2017
Home / Uttar Pradesh / हेलीकाप्टर से सफ़र करने से अफसरान खौफज़दा

हेलीकाप्टर से सफ़र करने से अफसरान खौफज़दा

रांची 9 जून : साबिक़ वज़ीरे आला अर्जुन मुंडा के हेलीकाप्टर हादसा का खौफ आज भी यहाँ के अफसरान में इस क़दर हावी है के वो हेलीकॉप्टर के बजाये सड़क से सफ़र करना ज्यादा महफूज समझ रहे हैं। इस सिलसिले में कोई भी कुछ बोलता तो नहीं है लेकिन हक

रांची 9 जून : साबिक़ वज़ीरे आला अर्जुन मुंडा के हेलीकाप्टर हादसा का खौफ आज भी यहाँ के अफसरान में इस क़दर हावी है के वो हेलीकॉप्टर के बजाये सड़क से सफ़र करना ज्यादा महफूज समझ रहे हैं। इस सिलसिले में कोई भी कुछ बोलता तो नहीं है लेकिन हकीक़त यही है।यहाँ हुकूमत बगैर हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किये हुए महाना 31 लाख 25 हजार रूपये किराया दे रही है।

इस साल अब तक कुल मिलाकर तकरीबन दो करोड़ रूपये बातौर किराया अदा किये जा चुके हैं। हुकूमत झारखण्ड ने इसी साल जनवरी से पाँच सीटर हेलीकॉप्टर का किराया इस शर्त पर लिया था के इस्तेमाल किये जाने या न किये जाने की हालत में कम-अज-कम 25 घंटे का किराया दिया जायेगा। इसका नतीजा में हर माह इस मद में 31 लाख 25 हजार रूपये की अदायगी करनी पड़ रही है। जनवरी में ही सदर राज़ नाफ़िज़ हवा और वजरा की टीम भी नहीं रही। महकमा शहरी हवाबाजी ने हुकूमत से अफसरान को काम के तहत बाहर आनेजाने के लिए हेलीकॉप्टर के इस्तेमाल किये जाने की गुजारिश की है.

इस के बावजूद अफसरान सड़क रस्ते से सफ़र करके किराये के तौर पर लाखों रूपये खर्च करने पड़ रहे है। हुकूमत ने यूरो कॉप्टर के दोफ्लिन ए-665 को किराये पर लिया है। 5 सीटर ये हेलीकॉप्टर जदीद तरीन तकनीक से लैस है। इस में डबल इंजन समेत दो पायलटों की पूरी सहुलत दस्तयाब है।

TOPPOPULARRECENT