Wednesday , August 23 2017
Home / Crime / हैदराबाद: कांगो मूल की पत्नी की हत्या के बाद शव के टुकड़े कर लगायी आग

हैदराबाद: कांगो मूल की पत्नी की हत्या के बाद शव के टुकड़े कर लगायी आग

हैदराबाद: हैदराबाद में एक बेहद भयावह घटना में एक आदमी ने कथित तौर पर कांगो मूल की अपनी 30 वर्षीय पत्नी को मार कर उसके शरीर के टुकड़े टुकड़े कर उसमें आग लगा दी |

आरोपी रूपेश कुमार मोहननी (36), को साइबराबाद पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया । एक निजी फ़र्म में कर्मचारी रूपेश यहाँ गौचीबोली में रहता है उसने  2008 में कांगो की एक क्लब डांसर से शादी की थी | दोनों के एक बेटी भी है |
डीसीपी शमसाबाद ,सनप्रीत सिंह ने ने संवाददाताओं को बताया कि दंपति के बीच अक्सर वित्तीय मामलों पर झगड़ा होता था आरोपी अपनी पत्नी के चरित्र पर शक भी करता था |

पीड़िता फेसबुक पर रुपेश के दोस्तों के साथ अक्सर चैट करती थी इसी बात को लेकर उनमें कई बार झगड़ा हुआ था | 3 जुलाई को भी आरोपी और उसकी पत्नी के बीच इस बात को लेकर झगड़ा हुआ था जिसके बाद आरोपी ने गुस्से में अपनी पत्नी का गला घोंट दिया और उसे मार डाला |सुबूत मिटाने के इरादे से उसने चाकू और कुल्हाड़ी की मदद से अपनी पत्नी के शरीर को कई टुकड़ों में काटा और उसे बैग में भरकर कार में डालकर शहर के बाहरी इलाके में ले गया और शव पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी |

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि मदनपल्ली के ग्रामीणों ने (शहर के बाहरी इलाके पर) जलती हुई लाश देखकर आरोपी को पकड़ लिया |

रूपेश और उनकी पत्नी 2012 तक कांगो में रहते थे उसके बाद भारत आने के बाद वे यहाँ गाचीबौली में रह रहे थे।

सिंह ने कहा “उन्होंने  भारत में विदेशी नागरिक के लिए ओवरसीज़ सिटिज़न ऑफ़ इण्डिया (ओसीआई कार्ड) के लिए आवेदन किया था जिसका सत्यापन किया जाना था लेकिन (सिंथिया की हत्या) के बारे में कांगों दूतावास को सूचित कर दिया गया है सिंह ने कहा।

इस मामले में आईपीसी की  विभिन्न धाराओं 302 (हत्या के लिए सजा) और 201 (अपराध के सुबूत मिटाने और अपराध के बारे में झूठी जानकारी देने ) के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है |

TOPPOPULARRECENT