Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / हॉस्टलस को सब्सीडी वाले गैस सलिंडरस फ़राहम(एकत्र‌) करने का मुतालिबा( मांग‌ )

हॉस्टलस को सब्सीडी वाले गैस सलिंडरस फ़राहम(एकत्र‌) करने का मुतालिबा( मांग‌ )

हैदराबाद।२५अक्टूबर (सियासत न्यूज़)। रियास्ती सी पी आई ऐम ने आंगन वाड़ी हॉस्टलस, मिडडे मील स्कीम के तहत पकवान के लिए और तमाम मह्कमाजात बहबूदी के हॉस्टलस को उन्हें दरकार गैस सलिंडरस सब्सीडी पर फ़राहम करने का रियास्ती हुकूमत से परज

हैदराबाद।२५अक्टूबर (सियासत न्यूज़)। रियास्ती सी पी आई ऐम ने आंगन वाड़ी हॉस्टलस, मिडडे मील स्कीम के तहत पकवान के लिए और तमाम मह्कमाजात बहबूदी के हॉस्टलस को उन्हें दरकार गैस सलिंडरस सब्सीडी पर फ़राहम करने का रियास्ती हुकूमत से परज़ोर मुतालिबा( मांग‌ ) किया और कहा कि अगर मज़कूरा तीनों को (मिडडे मील, आंगन वाड़ी और बहबूदी हॉस्टलस) सब्सीडी के तहत गैस सलिंडरस फ़राहम ना करने की सूरत में इन तीनों असकीमात को ज़बरदस्त धक्का पहुंचेगा और तलबा-ए-के सड़कों पर निकल आने का ख़दशा लाहक़ होगा।

इलावा अज़ीं अब तक ही आंगन वाड़ी और बहबूदी हॉस्टलस को सब्सीडी के तहत गैस सलिंडरस फ़राहम ना किए जाने के ख़िलाफ़ मुख़्तलिफ़ (विभिन्न‌)तलबा-ए-तंज़ीमों की जानिब से किए जाने वाले एहतिजाज की भरपूर ताईद-ओ-हिमायत करने का सी पी आई ऐम ने ऐलान कयाओ सी पी आई ऐम ने रियास्ती हुकूमत को अपनी सख़्त तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि मर्कज़ी हुकूमत ने कांग्रेस बरसर-ए-इक़तिदार रियास्तों के चीफ़ मिनिस़्टरों को हिदायत दी कि वो अपनी रियास्तों में सब्सीडी के तहत कम अज़ कम तीन ज़ाइद सलिंडरस फ़राहम करें जब कि मर्कज़ी हुकूमत की हिदायात पर दीगर रियास्तों में अमल आवरी का आग़ाज़ हुआ ही, लेकिन रियासत में बरसर-ए-इक़तिदार चीफ़ मिनिस्टर मिस्टर एन किरण कुमार रेड्डी की ज़ेर क़ियादत रियास्ती कांग्रेस हुकूमत ने मर्कज़ी हुकूमत की हिदायात पर अभी तक अमल आवरी करने का फ़ैसला तक नहीं किया ही।

आज यहां अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए रियास्ती सैक्रेटरी सी पी आई ऐम मिस्टर बीवी राघवल्लू ने ये बात बताई और कहा कि रियास्ती सी पी आई ऐम सकरीटरीट के जारी इजलास में गैस सलिंडरस की फ़राहमी के मसला पर बड़े पैमाने पर एहतिजाज मुनज़्ज़म करने का फ़ैसला किया गया। उन्हों ने कहा कि रियासत में पैट्रोलीयम अशीया और गैस सलिंडरस वग़ैरा की क़ीमतों में कमी की जा सकती ही, लेकिन रियासत में इन क़ीमतों पर टैक्स इज़ाफ़ा वसूल किए जाते हैं।

लिहाज़ा जिन रियास्तों में टेक्सस कम हैं, इन ही ख़ुतूत पर रियासत में आइद किए जाने वाले वयाट मैं पैट्रोलीयम अशीया-ओ-गैस वग़ैरा पर कम करने का परज़ोर मुतालिबा किया। मिस्टर बीवी राघवल्लू ने कहा कि रियासत में 33 फ़ीसद टैक्स मुख़्तलिफ़ (विभिन्न‌)अशीया पर आइद किया गया ही। सैक्रेटरी रियास्ती सी पी आई ऐम ने कहा कि अगर हुकूमत हॉस्टलस के लिए सब्सीडी क़ीमत पर गैस सलिंडरस फ़राहम ना करने की सूरत में एक एक हॉस्टल के माहाना मसारिफ़ में कम अज़ कम 40 हज़ार रुपय का इज़ाफ़ा होगा।

इस तरह रियासत में एससी, एसटी, बी सी-ओ-अक़ल्लीयती तबक़ात के लिए क़ायम करदा हज़ारों हॉस्टलस पर करोड़ों रुपय के ज़ाइद मसारिफ़ आइद होंगी, जोकि रियास्ती हुकूमत ही को बर्दाश्त करने पड़ेगी। मिस्टर बीवी राघवल्लू ने रियासत में ख़वातीन पर होने वाले मज़ालिम के वाक़ियात में रोज़ बरोज़ इज़ाफ़ा पर अपनी गहिरी तशवीश का इज़हार किया और कहा कि हर सतह पर ख़वातीन के हुक़ूक़ को ख़तन करने की कोशिशें की जा रही हैं।

लिहाज़ा सी पी आई ऐम की क़ौमी आमिला के फ़ैसला की रोशनी में मलिक गीर सतह पर 30 अक्टूबर को मुनज़्ज़म किए जाने वाले यौम तहफ़्फ़ुज़ ख़वातीन के सिलसिला में रियासत भर में रियास्ती सी पी आई ऐम के ज़ेर-ए-एहतिमाम निचली सतहता रियास्ती सतह पर 30 अक्टूबर को यौम तहफ़्फ़ुज़ ख़वातीन मुनज़्ज़म किया जाएगा और इस यौम तहफ़्फ़ुज़ ख़वातीन को बड़े पैमाने पर कामयाब बनाने की परज़ोर अपील की।

TOPPOPULARRECENT