Monday , August 21 2017
Home / Business / होंडा कारों को इस वित्तीय वर्ष में गिरावट का सामना करना पड़ेगा

होंडा कारों को इस वित्तीय वर्ष में गिरावट का सामना करना पड़ेगा

कार निर्माता ‘होंडा’ को भारत में इस वित्तीय वर्ष में बिक्री में कमी का सामना करना पड़ रहा है। यह गिरावट लोगो का रुझान डीजल की कारो की जगह पेट्रोल की कारो की और बढ़ने से हुआ है, कंपनी के इंडिया प्रमुख ने कहा।

“मार्च समाप्त होते ही इस वित्तीय वर्ष में हमारा विकास नकारात्मक क्षेत्र में होगा । इसका कारण है की, डीज़ल की बजाय पेट्रोल की कारो को खरीद रहा है और हमारे पास अब भी कई सारी डीजल की कारें इन्वेंट्री में हैं। यह ठीक किया जाना चाहिए, ” होंडा कारों के भारत के राष्ट्रपति और सीईओ ‘योइचिरो उने’ ने कहा।

“नवम्बर में नोट बंदी के कारण हम एक कठिन दौर से गुज़रे चुके हैं” उने ने कहा।

“लेकिन अगले वित्त वर्ष में हम एक स्थिर आर्थिक विकास की उम्मीद करते हैं और हमने जनवरी से बिक्री में बदलाव देखना शुरू कर दिया है। आशावादी होने का एक और कारण ब्याज दरों में गिरावट है जिसके कारण बिक्री को बढ़ावा मिलेगा,” उन्होंने कहा।

पिछले वित्त वर्ष में, कंपनी ने घरेलू बाजार में 1.9 लाख कार बेची थी और अफ्रीकी देशों में 5000 यूनिट निर्यात की थी।

शुक्रवार को ‘डब्लूआरआर एसयूवी’ लॉन्च करते हुए उन्होंने कहा कि कार को पहले से ही 4500 बुकिंग मिल चुकी हैं जो बहुत अच्छी बात है।

होंडा, यात्री कार निर्माताओं के बाजार में हिस्सेदारी के मामले में चौथे स्थान पर है और कंपनी अपने पोर्टफोलियो को बढ़ाने के लिए नए प्रीमियम उत्पादों को लॉन्च करना जारी रखेगी।

TOPPOPULARRECENT