Sunday , October 22 2017
Home / India / हक़ राय दही की राज़दारी में इज़ाफे के लिए नई मशीन इस्तेमाल करने इलेक्शन कमीशन की ख़ाहिश

हक़ राय दही की राज़दारी में इज़ाफे के लिए नई मशीन इस्तेमाल करने इलेक्शन कमीशन की ख़ाहिश

राय दही की राज़दारी को राय शुमारी के दौरान भी बरक़रार रखने के मक़सद से इलेक्शन कमीशन ने तजवीज़ पेश की है कि नई मशीनें राय दही केलिए इस्तेमाल की जाएं ताकि राय दही के रुजहान का इन्किशाफ़ ना होसके। इलेक्शन कमीशन ने हुकूमत को तजवीज़ पेश की है

राय दही की राज़दारी को राय शुमारी के दौरान भी बरक़रार रखने के मक़सद से इलेक्शन कमीशन ने तजवीज़ पेश की है कि नई मशीनें राय दही केलिए इस्तेमाल की जाएं ताकि राय दही के रुजहान का इन्किशाफ़ ना होसके। इलेक्शन कमीशन ने हुकूमत को तजवीज़ पेश की है कि टोटलाइज़र मशीन राय शुमारी केलिए इस्तेमाल की जाये। इलेक्शन कमीशन ने कहा कि इस तरह राय दही की राज़दारी को अगली सतह तक बुलंद किया जा सकेगा और राय शुमारी के वक़्त वोटों को मिलाने का मक़सद भी हासिल होजाएगा।

एसा इस लिए किया जाता है कि किसी मख़सूस मर्कज़ राय दही पर राय दही के रुजहान का पता ना चल सके। मर्कज़ी वज़ीर-ए-क़ानून रवी शंकर प्रसाद ने आज राज्य सभा को उसकी इत्तेला दी। एक सवाल के तहरीरी जवाब में अन्होने कहा कि हुकूमत ने अभी इस बारे में कोई फ़ैसला नहीं किया है।

वोटों की राज़दारी हिन्दुस्तानी जम्हूरियत का निचोड़ है और किसी भी टेक्नोलोजी की तरक़्क़ी को इस मक़सद को यक़ीनी बनाने केलिए इस्तेमाल करने से गुरेज़ नहीं किया जाएगा। उन से सवाल किया गया था कि क्या हुकूमत तमाम वोटों को यकजा कर के राय शुमारी पर ग़ौर कररही है और मराकज़ राय दही पर मबनी राय शुमारी तर्क करने का इरादा रखती है।

TOPPOPULARRECENT