Monday , October 23 2017
Home / Sports / हफ़ीज़ को क़ियादत से बर्तर्फ़ नहीं किया जा रहा: नजम सेठी

हफ़ीज़ को क़ियादत से बर्तर्फ़ नहीं किया जा रहा: नजम सेठी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पी सी बी ) के चेयरमेन नजम सेठी ने कहा है कि जुनूबी अफ़्रीक़ा में शुऐब मलिक और अब्दूर्रज़्ज़ाक़ के ज़ख्मों के मुआमला मुतनाज़ा टीम के डाक्टर रियाज़ अहमद को बर्तर्फ़ किया गया ताहम मुहम्मद हफ़ीज़ को टी 20 की कप्तानी से

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पी सी बी ) के चेयरमेन नजम सेठी ने कहा है कि जुनूबी अफ़्रीक़ा में शुऐब मलिक और अब्दूर्रज़्ज़ाक़ के ज़ख्मों के मुआमला मुतनाज़ा टीम के डाक्टर रियाज़ अहमद को बर्तर्फ़ किया गया ताहम मुहम्मद हफ़ीज़ को टी 20 की कप्तानी से हटाने की बातें चल रही हैं।

टी 20 वर्ल्ड कप से क़बल कप्तान को तबदील करने पर क़ियास आराईयों से गुरेज़ किया जाये सूरत-ए-हाल जूं की तूं बरक़रार है। हफ़ीज़ को तबदील करने और नए कोच पर कोई बात नहीं हुई है। इस बारे में में नहीं स्लेक्टर फ़ैसला करेंगे। कप्तान को तबदील करना मेरा हक‌ ज़रूर है लेकिन मैं टेस्ट क्रिकेटर्स की सलाह‌ से फ़ैसला करता हूँ।

मुहम्मद हफ़ीज़ को अभी नहीं हटाया जा रहा। फ़ैसला करने से पहले सलेक्टर्स की राय को एहमियत दी जाएगी। लेकिन उनसे जवाब तलब किया जाएगा और उन्हें ज़िम्मेदारी लेनी होगी। कोच डेव वाटमोर से टीम के इंतिख़ाब पर बात की जाती है तो वो सीधा नहीं बल्कि डिप्लोमैटिक जवाब देते हैं। इस लिए मैं सलेक्टर्स के इलावा कप्तान और मैनेजर मुईन ख़ान से मश्वरा करता हूँ।

छः माह क़बल अपना ओहदा सँभालने के बाद वो पहली मर्तबा कराची में प्रैस कान्फ़्रेंस से ख़िताब कररहे थे। पौने दो घंटे तवील प्रैस कान्फ़्रेंस में वो सहाफियों के बात‌ करते रहे ताहम उन्होंने बाअज़ मुआमलात पर खुल कर इज़हार-ए-ख़्याल करने से गुरेज़ किया और बाअज़ मौज़ूआत पर खुल कर इज़हार ख़्याल किया।

उनके साथ‌ आई एमसी के रुक्न ज़हीर अब्बास , स्लेक्टर सलीम जाफ़र और मीडिया मनेजर नदीम सुरूर भी मौजूद थे। नजम सेठी ने कहा मैंने सलेक्टर्स को मतला करदिया है कि मुझे मुकम्मल फिट खिलाड़ी चाहिये। शुऐब मलिक के मुआमले में टीम इंतिज़ामिया ने डाक्टर की राय को एहमियत दी थी इसलिए तहक़ीक़ात के बाद मैंने डाक्टर रियाज़ को ज़िम्मेदार पाया और उन्हें टीम की ज़िम्मेदारियों से बर्तर्फ़ कर दिया और उनके मुक़ाम पर चार माह केलिए ग़ैर मुल्की ट्रेनर और फ़िज़ियो का तक़र्रुर किया गया है।

उसमान शनिवारी के बारे में उन्होंने कहा कि मिसबाहुल-हक़ ने कहा था कि ग़ैरमामूली सलाहियतों का हामिल बोलर है। मैंने सलेक्टर्स से मश्वरा किया। फिर हफ़ीज़ से राय लेकर उन्हें टीम में शामिल किया। इस मौक़ा पर स्लैक्टर सलीम जाफ़र ने कहा कि उसमान शनिवारी को मुस्तक़बिल में मौक़ा मिल सकता है। उसकी हौसलाशिकनी नहीं की जाएगी।

उमर‌ गुल और इर्फ़ान के अन फिट होने पर उन्हें टी0 वर्ल्ड कप के मुम्किना खिलाड़ियों में शामिल करके जांचना चाहते थे। नजम सेठी ने कहा कि उस वक़्त कोच के बारे में कोई फ़ैसला नहीं हुआ है। मैं आज तक वक़ार यूनुस से नहीं मिला हूँ। वाटमोर की जगह नए कोच का फ़ैसला वक़्त आने पर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले मीडिया मिसबाहुल-हक़ के बारे में जारिहाना रवैय्या रखता था और अब हफ़ीज़ के बारे में इसी किस्म की बातें सुन रहा हूँ।

अगर पाकिस्तान में कोई ग़ैरमामूली सलाहियतों का मालिक कप्तान है तो हम उसे तय्यार करने को तैयार हैं। उनसे पूछा गया कि आप ने कितनी क्रिकेट खेली है तो उन्होंने कहा कि मैं कॉलेज में ओपनिंग बैटस्मेन था और क्रिकेट जानता हूँ लेकिन क्रिकेट के हस्सास मुआमलात में क्रिकेटर्स की राय को एहमियत देता हूँ।

पाकिस्तान सुपर लीग के बारे में उन्होंने कहा कि तीसरे दर्जा के ग़ैर मारूफ़ खिलाड़ी पाकिस्तान आने के लिए एक लाख डॉलर्स मुआवज़ा तलब कररहे हैं। पाकिस्तान से बाहर ये लीग कराना बेकार है। सेठी ने कहा कि आई पी एल कमिशनर राजीव शुक्ला से बात की कि आई पी एल में पाकिस्तानी खिलाड़ियों को लिया जाये उन्होंने कहा कि श्री निवासन से बात करें उनसे बात की तो कहने लगे कि मनमोहन सिंह से बात करें।

TOPPOPULARRECENT