Friday , October 20 2017
Home / World / क़दीम इराक़ी शहर हातरा की मुबैयना तबाही की मुज़म्मत

क़दीम इराक़ी शहर हातरा की मुबैयना तबाही की मुज़म्मत

अक़वामे मुत्तहिदा के सक़ाफ़ती इदारा ने आज दौलते इस्लामीया के जिहादी के हाथों क़दीम आलमी तहज़ीबी विर्सा की हैसियत से शहर हातरा की तबाही की मुज़म्मत करते हुए कहा कि रूमी सामराज के दौर के इस क़दीम क़िला बंद शहर की इराक़ की रेगिस्तान में तबा

अक़वामे मुत्तहिदा के सक़ाफ़ती इदारा ने आज दौलते इस्लामीया के जिहादी के हाथों क़दीम आलमी तहज़ीबी विर्सा की हैसियत से शहर हातरा की तबाही की मुज़म्मत करते हुए कहा कि रूमी सामराज के दौर के इस क़दीम क़िला बंद शहर की इराक़ की रेगिस्तान में तबाही नाक़ाबिले बर्दाश्त है।

दो दिन क़ब्ल मुबैयना तौर पर इराक़ की वज़ारते नवादिरात और आसारे क़दीमा ने इत्तिला दी थी कि दौलते इस्लामीया ने क़दीम असीरयाई शहर नमरूद को ज़मबीन बोस कर देने की इत्तिला दी थी और जिहादीयों की जानिब से अगले हफ़्ता एक टेप जारी किया गया था जिस में उन्हें मूसल म्यूज़ीयम में मुसव्विरी के शाहकारों को तबाह करते हुए दिखाया गया था।

शहर हातरा की तबाही सक़ाफ़ती सफाए की परेशानकुन हिक्मते अमली का एक नया मोड़ है। हातरा एक इंतिहाई अच्छी तरह महफ़ूज़ शहर था जिस की इन्फ़िरादियत मशरिक़ी और मग़रिबी फ़न तामीर का इम्तिज़ाज थी।

ये शहर रेगिस्तानी इलाक़ा में जुनूबी जिहादीयों के मर्कज़ मूसल के जुनूब मग़रिब में 100 किलोमीटर के फ़ासले पर वाक़े था। इस ब्यान पर अब्दुल्लाह अल अज़ीज़ उस्मान अल तवीज़री ने भी दस्तख़त किए हैं जो तालीमात इस्लामी साइनटीफ़िक और तहज़ीबी तंज़ीम के डायरेक्टर जेनरल हैं।

TOPPOPULARRECENT