Saturday , October 21 2017
Home / District News / क़ानून हक़ मालूमात कमिशन‌ की तक़र्रुरी का मुतालिबा

क़ानून हक़ मालूमात कमिशन‌ की तक़र्रुरी का मुतालिबा

( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) पिछले एक साल के अर्सा से रियास्ती कमेटी के लिए सिर्फ जन्नत हुसैन की वाहिद शख़्सियत है जो हक़ मालूमात क़ानून की ख़िदमात अंजाम दे रहे हैं।

( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) पिछले एक साल के अर्सा से रियास्ती कमेटी के लिए सिर्फ जन्नत हुसैन की वाहिद शख़्सियत है जो हक़ मालूमात क़ानून की ख़िदमात अंजाम दे रहे हैं।

इस महकमा में कमिशन‌रों की 9 जायदादें खाली हैं। रियास्ती हुकूमत का हालिया कमिशनर का तक़र्रुर किया जाना भी मुतनाजे बन चुका है। इन हालात में रियास्ती कमिशनरों के तक़र्रूरात के इक़दामात के लिए रियास्ती वज़ीर सिवील स्पलाईज़ श्री धर बाबू को हक़ मालूमात क़ानून की हिफ़ाज़ती कमेटी ज़िला सदर के मुतय्यन किए जाने के लिए चीफ़ मिनिस्टर से सिफ़ारिश करने के लिए ख़ाहिश की गई है।

मर्कज़ी हुकूमत हक़ क़ानून मालूमात को जिस तरह से नाफ़िज़ उल-अमल किए जाने के बड़े बड़े दावे तो कर रही है लेकिन रियासत में इस हक़ क़ानून मालूमात का सही तरीक़ा से नीफ़ाज़ नहीं है। लोक सत्ता सेक्रेटरी राजा मूली ने श्री धर बाबू के कहने पर हालिया रियास्ती हुकूमत रू बा अमल कमिशनर के तक़र्रुरात में सयासी क़ाइदीन की मुख़ालिफ़त की वजह से ताख़ीर हो रही है।

सयासी क़ाइदीन में बहुत सारे इंसाफ़ पसंद और अच्छे किरदार के हामिल भी हैं, सयासी ओहदे जिन्हें नहीं दिए गए हैं उन्हें कमिशनर के ओहदे दिए जाने पर ग़लती किया है। चीफ़ मिनिस्टर को इस ताल्लुक़ से इल्म में लाकर फ़ौरी कमिशनर‌ के तक़र्रुरात की कोशिश की जानी चाहीए।

TOPPOPULARRECENT