Saturday , October 21 2017
Home / India / ज़ाफ़रानी दहश्तगर्दी पर फ़ौरी रोक लगाई जाए : शाही इमाम

ज़ाफ़रानी दहश्तगर्दी पर फ़ौरी रोक लगाई जाए : शाही इमाम

शाही इमाम मस्जिद फ़तहपुरी दिल्ली मुफ़्ती मुहम्मद मुकर्रम अहमद ने आज नमाज़ जुमा से क़ब्ल ख़िताब में वज़ीर-ए-आज़म हकूमत-ए-हिन्द, वज़ीर-ए-आला राजस्थान और वज़ीर-ए-दाख़िला हकूमत-ए-हिन्द से पर ज़ोर मुतालिबा किया कि ज़ाफ़रानी दहश्तगर्दी को फ़ौरी

शाही इमाम मस्जिद फ़तहपुरी दिल्ली मुफ़्ती मुहम्मद मुकर्रम अहमद ने आज नमाज़ जुमा से क़ब्ल ख़िताब में वज़ीर-ए-आज़म हकूमत-ए-हिन्द, वज़ीर-ए-आला राजस्थान और वज़ीर-ए-दाख़िला हकूमत-ए-हिन्द से पर ज़ोर मुतालिबा किया कि ज़ाफ़रानी दहश्तगर्दी को फ़ौरी तौर लगाम दें और इसके ख़िलाफ़ शदीद कार्रवाई करें।

उन्होंने कहा कि तास्सुब और फ़िर्कापरस्ती ज़हनीयत की वजह से मुस्लमानों को शदीद मुश्किलात का सामना करना पड़ रहा है और ये सिलसिला बजाय कम होने के दराज़ होता चला जा रहा है। इत्तिलात के ज़रीया और मुलाक़ातों के ज़रीया मुतास्सिर अफ़राद जब अपनी परेशानियां सुनाते हैं तो इस से अफ़सोस होता है।

एक दो रोज़ पहले देव लक्की गाँव ज़िला परताबगढ़ से ख़बर मिली कि पड़ोसी गाँव के एक छोटे से वाक़िया पर शरपसंद अनासिर ने इस गाँव के मुस्लमानों को शदीद ख़ौफ़-ओ-हरास में मुबतला कर दिया और अफ़सोस तो इस बात का है कि एरिया पुलिस भी इनका ही साथ दे रही है।

मौसूला ख़बर के मुताबिक़ एक लड़के अनीस ख़ां वलद बाबुल ख़ां साकन देव लक्की गाँव को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया और इस के पैर में गोली मारी। जब इस का डाकटरी मुआइना और जांच हुई तो इस बात की तसदीक़ हुई कि ये ज़ख़म बंदूक़ की गोली का है हालाँकि पुलिस उसे मामूली ज़ख़म बता रही थी।

इत्तिलात के मुताबिक़ इस गाँव से 60 नौजवानों को गिरफ़्तार करने का मंसूबा था, जिससे अहल इलाक़ा की नींदें हराम हो चुकी हैं और लोग गाँव छोड़ने पर मजबूर हो रहे हैं। फिर्कापरस्त साफ़ तौर पर चैलेंज कररहे हैं कि हम इस को गोपाल गढ़ बना देंगे। इस ख़बर की तसदीक़ मौलाना नूर मुहम्मद ने भी फ़ोन पर कर दी।

TOPPOPULARRECENT