Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / फ़साद हुकूमत की कम्ज़ोरी और पुलीस की ना अहली : कुल हिंद मज्लिस तामीर मिल्लत

फ़साद हुकूमत की कम्ज़ोरी और पुलीस की ना अहली : कुल हिंद मज्लिस तामीर मिल्लत

कुल हिंद मज्लिस तामीर मिल्लत ने अपने एक प्रेस नोट में सइदाबाद , कुर्मागौड़ा और मादना पेट में हुए फ़िर्कावाराना फ़साद को हुकूमत की कमज़ोरी और पोलीस की ना एहली और जानिब्दाराना कार्रवाई से ताबीर किया है । प्रेस नोट में कहा गया है कि हाल ह

कुल हिंद मज्लिस तामीर मिल्लत ने अपने एक प्रेस नोट में सइदाबाद , कुर्मागौड़ा और मादना पेट में हुए फ़िर्कावाराना फ़साद को हुकूमत की कमज़ोरी और पोलीस की ना एहली और जानिब्दाराना कार्रवाई से ताबीर किया है । प्रेस नोट में कहा गया है कि हाल ही में संगा रेड्डी में मुस्लमानों का ज़बरदस्त माली नुक़्सान के साथ जो फ़साद हुवा ये उस की एक कड़ी है। हैरत की बात है कि प्रवीण तोगाड़िया जब भी हैदराबाद का दौरा करता है इस के वापसी के फ़ौरी बाद फ़साद फूट पड़ता है । हमारी पुलीस मुस्लमानों को बुला वजह गिरफ़्तार करने में चुसती और चालाकी दिखाती है लेकिन फ़िर्का परस्त अपनी तक़ारीर में जो ज़हर उगलते हैं इस का नोट नहीं लेती ।

कुल हिंद मज्लिस तामीर मिल्लत हमेशा से ये मुतालिबा करती रही है कि प्रवीण तोगाड़िया को आंधरा प्रदेश का दौरा करने की इजाज़त ना दे और दाख़िला बंदी के अहकामात जारी करे लेकिन एसा महसूस होता है कि पुलीस ओहदेदार ख़ुद ये चाहते हैं कि तोगाड़िया आए और यहां के अक्सरीयती फ़िर्क़ा के लोगों को उकसाए और वरग़लाए।

साबिक़ में ये रेकोर्ड रहा है कि फ़साद अक्सरीयती फ़िर्क़ा की जानिब से शुरू होता है और पुलीस की निगरानी में जानी , माली नुक़्सानात अकलिय्य्ती फ़िर्क़ा से ताल्लुक़ रखने वाले अफ़राद के होते हैं और फिर पुलीस अक्लिय‌ती फ़िर्क़ा के लोगों को ही गिरफ़्तार कर के चालान करती है ।

कल के वाक़िया में मुस्लमान कभी ये हरकत नहीं करसकता कि वो बड़े जानवर के पैर मंदिर के सामने डाले, इस के पीछे एक ख़तरनाक साज़िश है, इस की तहकीकात पुलीस की जानिब से की जाय। कुल हिंद मज्लिस तामीर मिल्लत मिस्टर किरण कुमार रेड्डी की हुकूमत से ये पुर ज़ोर मुतालिबा करती है कि वो संगा रेड्डी और कल शहर हैदराबाद में हुए वाक़ियात में अकलिय्य‌ती फ़िर्क़ा से ताल्लुक़ रखने वाले मुतास्सिरा अफ़राद के नुक़्सानात की पा बजाई फ़ौरी करे वर्ना इस का नतीजा भी आने वाले दिनों में कांग्रेसी हुकूमत को ख़मयाज़ा भुगतना पड़ेगा।

TOPPOPULARRECENT