Thursday , August 24 2017
Home / Delhi News / 11 लाख से ज्यादा फर्जी पैन कार्ड की पहचान की गई, किए गए डीएक्टिवेट

11 लाख से ज्यादा फर्जी पैन कार्ड की पहचान की गई, किए गए डीएक्टिवेट

नई दिल्ली। पैन कार्ड के डुप्लिकेशन पर रोक लगाने के लिए सरकार ने पैन और आधारकार्ड को जोड़ने का आदेश दिया था। सरकार के इस कदम को सफलता मिली है। अब तक 11.44 लाख से अधिक पैन कार्ड या तो बंद कर दिए गए हैं या निष्क्रिय कर दिए गए हैं।

कहा जा रहा है कि ऐसा उन मामलों में हुआ है जहां किसी व्यक्ति को एक से अधिक पैन कार्ड आवंटित कर दिए गए थे। वित्त राज्यमंत्री संतोष कुमार गंगवार ने इस बात की जानकारी दी।

गंगवार ने राज्यसभा में लिखित जवाब में बताया, 27 जुलाई तक 11,44,211 ऐसे पैन की पहचान की गई जिनमें पाया गया कि किसी एक ही व्यक्ति को एक से अधिक पैन जारी कर दिए गए हैं, अब उन्हें या तो बंद कर दिया गया या निष्क्रिय कर दिया गया।

उन्होंने कहा, पैन आवंटन का नियम है प्रति व्यक्ति एक पैन है। गंगवार ने बताया कि 27 जुलाई तक 1,566 फर्जी पैन की पहचान की गई।

सरकार करदाताओं से 31 अगस्त तक आधार को पैन से जोड़ने के लिए कहा है। 31 अगस्त तक आधार से पैन कार्ड लिंक नहीं होने पर रद्द कर दिया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT