Saturday , September 23 2017
Home / Education / 12वीं की किताब में लड़कियों की बदसूरती को दहेज की वजह बताया महाराष्‍ट्र शिक्षा बोर्ड

12वीं की किताब में लड़कियों की बदसूरती को दहेज की वजह बताया महाराष्‍ट्र शिक्षा बोर्ड

मुंबई : महाराष्ट्र की 12वीं कक्षा की एक पाठ्य पुस्तक में भारत में मौजूद दहेज की समस्या के लिए लड़की की बदसूरती और शारीरिक अशक्तता को वजह बताया गया है. राज्य माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की समाजशास्त्र विषय की किताब में यह पढ़ाया जा रहा है. इसमें ‘भारत में बड़ी सामाजिक समस्याएं’ शीर्षक वाले एक अध्याय में यह टिप्पणी की गई है.

धर्म, जाति प्रथा, सामाजिक प्रतिष्ठा और मुआवजे के सिद्धांत जैसे अन्य कारणों के साथ इस अध्याय में बदसूरती को भी वर पक्ष की ओर से दहेज की मांग की एक वजह बताया गया है. पुस्तक में कहा गया है, ‘यदि कोई लड़की बदसूरत और अशक्त है तो उसका विवाह होना बहुत मुश्किल हो जाता है. ऐसी लड़की से शादी करने के लिए वर और उसका परिवार अधिक दहेज की मांग करता है. ऐसी लड़कियों के माता-पिता असहाय हो जाते हैं और वर पक्ष की मांग के मुताबिक दहेज देते हैं. यह दहेज प्रथा के चलन को बढ़ाता है’.

इस पर महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने कहा कि मामले पर गौर किया जाएगा. बोर्ड के अध्यक्ष गंगाधर ममाने ने कहा, ‘मैं इस मुद्दे पर बोर्ड के साथ चर्चा करूंगा और फिर इस पर टिप्पणी करूंगा’.

TOPPOPULARRECENT