Monday , September 25 2017
Home / India / 2002-03 मुंबई विस्फोट मामले में आसिफ मुल्ला को बंबई हाई कोर्ट से मिली जमानत

2002-03 मुंबई विस्फोट मामले में आसिफ मुल्ला को बंबई हाई कोर्ट से मिली जमानत

मुंबई: बंबई उच्च न्यायालय ने बुधवार को 2002-2003 में मुंबई में हुए बम विस्फोट के आरोपी आतिफ मुल्ला को केस की सुनवाई के दौरान ज़मानत पर बाहर रहते हुए आरोपी द्वारा शर्तों का पालन किये जाने पर जस्टिस एएस ओका और ए.ए. सैयद की खंडपीठ ने 1.50 लाख रुपये के मुचलके पर ज़मानत दे दी।
आरोपी को इस साल अप्रैल में 2002-03 में  मुंबई में हुए विस्फोट जिसमें  12 लोगों की मौत हो गई थी और 27 अन्य घायल हो थे , में शामिल होने के आरोप में दस साल कारावास की सजा सुनाई थी।

सजा के बाद आतिफ ने ज़मानत पर बाहर रहते हुए अदालत द्वारा लागू की गयी शर्तों का पालन किया था इस आधार उच्च न्यायालय से ज़मानत की मांग की थी |

इस बीच, एक अन्य दोषी साकिब नचान ने भी उच्च न्यायालय में जमानत  के लिए आवेदन किया था लेकिन कोर्ट के यह कहने पर की उसको ज़मानत देने का इच्छुक नहीं है उसने आवेदन वापस ले लिया था |

6 दिसंबर, 2002 से 13 मार्च, 2003 के बीच हुए 3 धमाकों के मामले में स्पेशल पोटा कोर्ट ने इस साल अप्रैल में 10 आरोपियों को सजा सुनाई थी । जिसमें तीन को आजीवन कारवास ,4 को दस साल कारावास और तीन अन्य को दो साल के कारावास की सज़ा सुनाई थी |

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

 

2002 में मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर पहला, उपनगरीय विले पार्ले में 27 जनवरी 2003 को दूसरा विस्फोट,  तीसरा विस्फ़ोट 13 मार्च 2003 को मुलुंड रेलवे स्टेशन पर एक लोकल ट्रेन हुआ था |

TOPPOPULARRECENT