Saturday , October 21 2017
Home / Business / 2011 में 6.31 मिलियन बैरूनी सैय्याहों की आमद

2011 में 6.31 मिलियन बैरूनी सैय्याहों की आमद

नई दिल्ली, २३ नवंबर, ( पीटीआई) बैरून-ए-मुल्क से आने वाले सैय्याहों की 2011में जो तादाद बताई गई है वो काफ़ी हिम्मत ए अफ़्ज़ा है क्योंकि 6.31 मिलीयन बैरूनी सय्याहों की तादाद गुज़श्ता साल की तादाद 5.78 मिलीयन और 2009 की 5.17 मिलीयन से कहीं ज़्यादा है।

नई दिल्ली, २३ नवंबर, ( पीटीआई) बैरून-ए-मुल्क से आने वाले सैय्याहों की 2011में जो तादाद बताई गई है वो काफ़ी हिम्मत ए अफ़्ज़ा है क्योंकि 6.31 मिलीयन बैरूनी सय्याहों की तादाद गुज़श्ता साल की तादाद 5.78 मिलीयन और 2009 की 5.17 मिलीयन से कहीं ज़्यादा है।

राज्य सभा में एक तहरीरी जवाब देते हुए वज़ीर ए सेहत के चिरंजीवी ने ये भी कहा कि ग्यारहवीं पंचसाला मंसूबा के लिए सेहत के वर्किंग ग्रुप ने 2011 के इख़्तेताम तक 10 मिलीयन बैन-उल-अक़वामी सय्याहों (पर्यटकों) की आमद का निशाना मुक़र्रर किया था। एक और सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि 2010 के दौरान सेहत के ज़रीया बैरूनी ज़र-ए-मुबादला की आमदनी 64,889 करोड़ रुपए, 2011 में 77,591 करोड़ रुपए और 2012 में 74,255 करोड़ रुपए रही।

उन्होंने कहा कि हुकूमत हरियाणा ने मतला किया था कि 2013 से सूरजकुंड फेयर को तरक़्क़ी दे कर सूरजकुंड इंटरनैशनल क्राफ्ट्स फेयर के तौर पर मनाया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT