Tuesday , August 22 2017
Home / Jharkhand News / 25 हजार रुपए में बिक रहा फर्जी ड्रग लाइसेंस

25 हजार रुपए में बिक रहा फर्जी ड्रग लाइसेंस

रांची : रियासत में पैसे लेकर फर्जी ड्रग लाइसेंस जारी किए जा रहे हैं। वह भी महज 25-25 हजार रुपए में। एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) की जांच रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि अफसरों के फर्जी दस्तखत से लाइसेंस जारी किए गए हैं। स्टेट ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के कुछ अफसरों की मिलीभगत से एक बड़ा रैकेट इस धंधे को अंजाम दे रहा है। इसमें बड़े पैमाने पर पैसे का लेनदेन-हुआ है। लोकायुक्त ने रिपोर्ट रियासती हुकूमत को भी भेजी है।

फर्जी ड्रग लाइसेंस जारी किए जाने की शिकायत लोकायुक्त से की गई थी। लोकायुक्त ने एसीबी को जांच करने की हिदायत दिया। एसीबी ने पीआई 09/14 दर्ज कर जांच शुरू की। जांच करने वाले पुलिस इंस्पेक्टर कन्हैया प्रसाद सिंह ने गुजिशता महीने लोकायुक्त को रिपोर्ट दी। इसमें खुलासा किया गया है कि ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के कुछ अफसरों ने पैसे लेकर आला अफसरों के फर्जी दस्तखत से ड्रग लाइसेंस जारी किए हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक एसीबी ने फर्जी लाइसेंस हासिल करने वाले दुकानदार पूर्ण चंद्र कुमार से पूछताछ की। पूर्ण चंद्र ने बताया कि यह लाइसेंस उन्हें मौजूदा ड्रग इंस्पेक्टर सुमंत कुमार तिवारी ने दिया था। इसके लिए उनसे 25 हजार रुपए लिए गए थे।

जब सुमंत कुमार तिवारी से बात की गई तो उन्होंने कहा, ‘आप मुझ से क्यों पूछ रहे हैं। यह मामला लोकायुक्त के यहां है। आपको इस बारे में नहीं पूछना चाहिए। मैं इस पर अभी कुछ नहीं बोलूंगा।’

 

TOPPOPULARRECENT