Thursday , October 19 2017
Home / India / 27 साल बाद भी हुकूमत के इक़दामात ग़ैर इतमीनान बख़श

27 साल बाद भी हुकूमत के इक़दामात ग़ैर इतमीनान बख़श

भोपाल ०१ दिसम्बर(पी टी आई) भोपाल गैस सानिहा के शिकार और मुतास्सिरीन की नुमाइंदगी करनेवाली एक तंज़ीम ने आज मर्कज़ और हुकूमत मध्य प्रदेश को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि बदतरीन सनअती हादिसा के 27 साल गुज़र जाने के बाद भी मुतास्सिर

भोपाल ०१ दिसम्बर(पी टी आई) भोपाल गैस सानिहा के शिकार और मुतास्सिरीन की नुमाइंदगी करनेवाली एक तंज़ीम ने आज मर्कज़ और हुकूमत मध्य प्रदेश को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि बदतरीन सनअती हादिसा के 27 साल गुज़र जाने के बाद भी मुतास्सिरीन और महलोकीन के अरकान ख़ानदान के फ़लाह-ओ-बहबूद और बाज़ आबादकारी के लिए हुकूमत के इक़दामात इतमीनान बख़श नहीं हैं।

एक ऐसा हादिसा जिस में हज़ारों अफ़राद बैयकवक़त लुक़मा-ए-अजल बन चुके हूँ, हुकूमत की बेहिसी इंतिहाई अफ़सोसनाक है । भोपाल गैस पीढ़ीत महेला उद्योग संघटन के कन्वीनर अबदुलजब्बार ने अख़बारी नुमाइंदों से बात करते हुए कहा कि मर्कज़ और रियास्ती हुकूमतों की जानिब से गुज़श्ता डेढ़ बरसों में कई ऐलानात किए जा चुके हैं लेकिन किसी भी ऐलान को रोबामल नहीं लाया गया ।

उन्होंने मज़ीद कहा कि इस संगीन मुआमला की समाअत भी डिस्ट्रिक्ट अदालतों में जिस तरह की जा रही है वो इतमीनान बख़श नहीं है ।

TOPPOPULARRECENT