Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / 288 इंजीनियरिंग कॉलेजेस का फिर एक बार सरकारी सतह पर जायज़ा लिया जाएगा

288 इंजीनियरिंग कॉलेजेस का फिर एक बार सरकारी सतह पर जायज़ा लिया जाएगा

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर और वज़ीरे ताअलीम के सिरी हरी ने कहा कि रियासत के इंजीनियरिंग कॉलेजेस में म्यार तालीम और सहूलतों का जायज़ा लेने के लिए मुख़्तलिफ़ ओहदेदारों की टीमों ने कॉलेजेस का मुआइना किया।

डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर और वज़ीरे ताअलीम के सिरी हरी ने कहा कि रियासत के इंजीनियरिंग कॉलेजेस में म्यार तालीम और सहूलतों का जायज़ा लेने के लिए मुख़्तलिफ़ ओहदेदारों की टीमों ने कॉलेजेस का मुआइना किया।

अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि 288 इंजीनियरिंग कॉलेजेस से मुताल्लिक़ तमाम तफ़सीलात ऑनलाइन फ़राहम की गई हैं। उन्हों ने कहा कि इन मालूमात की बुनियाद पर कॉलेजेस के ज़िम्मेदारान हुकूमत से रुजू हो सकते हैं।

वज़ीरे ताअलीम ने कहा कि 288 इंजीनियरिंग कॉलेजेस का फिर एक बार सरकारी सतह पर मुआइना किया जाएगा। इस मुआइना के बाद तालीमी साल 2015-16 में दाख़िलों से मुताल्लिक़ फ़ैसला किया जाएगा।

हुकूमत इस बात की कोशिश करेगी कि एक भी तालिबे इल्म का नुक़्सान ना हो और इंजीनियरिंग की जारीए तालीम मुतास्सिर ना होने पाए। उन्हों ने कहा कि रियासत में एक लाख 66 हज़ार इंजीनियरिंग की नशिस्तें मौजूद हैं और क्वालीफ़ाई होने वाले तलबा की तादाद काफ़ी कम है।

TOPPOPULARRECENT