Tuesday , October 24 2017
Home / India / 2G मुक़द्दमा में अटार्नी जनरल वाहनवती की गवाही

2G मुक़द्दमा में अटार्नी जनरल वाहनवती की गवाही

नई दिल्ली 25 फरवरी: (पी टी आई)अटार्नी जनरल ग़ुलाम ई वाहनवती (Attorney General (AG) Ghoolam E.

नई दिल्ली 25 फरवरी: (पी टी आई)अटार्नी जनरल ग़ुलाम ई वाहनवती (Attorney General (AG) Ghoolam E. Vahanvati) इम्कान है कि 27 फ़रवरी को दिल्ली की एक अदालत के इजलास पर पेश होंगे जहां 2G स्पेक्ट्रम मुख़तस करने के स्क़ाम ( Scam) के मुक़द्दमा की समाअत जारी है । वो इम्कान है कि इस मुक़द्दमा में इस्तिग़ासा के गवाह की हैसियत से बयान देंगे ।

अपने फ़र्द-ए-जुर्म में सी बी आई ने इल्ज़ाम आइद किया है कि अख़बारी बयान में तरमीम के नतीजा में नज़रिया की अज़ सर-ए-नौ तारीफ़ का ताय्युन हो गया है और पहले आ और पहले पा की बुनियाद पर तर्जीह देने के तरीका-ए-कार पर अमल का जवाज़ पैदा हो गया है , ये दरख़ास्त की वसूली की तारीख़ के मुताबिक़ दरख़ास्तों को तर्तीब देने के मुस्लिमा तरीका-ए-कार के बरअक्स है ।

सी बी आई ने अपने फ़र्द-ए-जुर्म में इल्ज़ाम आइद किया था कि साबिक़ मरकज़ी वज़ीर-ए-मवासलात ए राजा ने मुआविन मुल्ज़िमीन और साबिक़ मोतमिद मुवासलात सिद्वार्थ बेहूरा (Siddharth Behura,) के साथ साज़िश करते हुए महकमा मुवासलात की ग़लत तस्वीर पेश की है और मुवासलाती कंपनीयों को रवाना करदा मरासलों के बारे में अपने अख़बारी बयान के मुसव्वदा में तरमीम की है जिससे ऐसा मालूम होता है कि उस वक़्त के सालीसीटर जनरल वाहनवती से रजामंदी हासिल की गई थी ।

सी बी आई ने ये भी इल्ज़ाम आइद किया कि अख़बारी बयान में तरमीम के नतीजा में पहले आ और पहले पा की बुनियाद पर तर्जीह देने की और वसूल होने वाली दरख़ास्तों को वसूली की तर्तीब में रखने के मुस्लिमा तरीका-ए-कार की ख़िलाफ़वरज़ी की गई है । सी बी आई ने इस्तिग़ासा के गवाहों की एक ताज़ा फ़हरिस्त पेश की हैं जिनके बयानात दर्ज करने के लिए इस मुक़द्दमा में उन्हें ख़ुसूसी सी बी आई जज ओ पी सानी के इजलास पर तलब किया जाना चाहीए चुनांचे वाहनवती की गवाही का इंदिराज 27 फ़रवरीको मुक़र्रर है ।

TOPPOPULARRECENT