Tuesday , September 26 2017
Home / Bihar/Jharkhand / झारखंड : 63502.69 करोड़ रुपये का बजट पेश, एग्रिकल्चर बजट दोगुना, ख्वातीन पर खुसूसी तवज्जो

झारखंड : 63502.69 करोड़ रुपये का बजट पेश, एग्रिकल्चर बजट दोगुना, ख्वातीन पर खुसूसी तवज्जो

रांची : माली साल 2016-17 के लिए पेश 63502.69 करोड़ के बजट में सरकार ने काेई नया टैक्स नहीं लगाया है़। बजट में तमाम तबकों को खुश करने की कोशिश की गयी है़। ख्वातीन पर खुसूसी तवज्जो देते हुए कुल 5909.07 करोड़ की तजवीज किया गया है। हुकूमत ने जिरात शोबे के मनसूबे का आकार भी 1200 करोड़ से बढ़ा कर 2426 करोड़ कर दिया है़। बजट में बुनियादी सहूलत, तालीम वगैरह सामाजिक शोबे से जुड़ी दीगर मंसूबों पर खुसूसी तवज्जो दिया गया है। हुकूमत तरक्की मंसूबों में होनेवाले बदुन्वान पर काबू पाने के मकसद से थर्ड पार्टी ऑडिट करायेगी़ बाबा साहेब भीमराव अांबेडकर की 125वीं जयंती पर अपने खजाने से बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर रिहाईश मंसूबा शुरू करेगी।

वज़ीरे आला व फाइनेंस वजीर रघुवर दास ने जुमा को एसेम्बली में माली साल 2016-2017 के लिए 63502.69 करोड़ रुपये का बजट पेश किया़। बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है़। एमएलए की रक़म तीन करोड़ से बढ़ा कर सालाना चार करोड़ रुपये कर दी गयी है़। साथ ही विधानसभावार डीडीओ की निज़ाम करने की तजवीज किया गया है।

सरकार ने गरीबों के लिए पहले से चल रही तमाम मंसूबों को जारी रखने की एलान की है़. इनमें दाल-भात मंसूबा, पेंशन मंसूबा, तालीबा के लिए साइकिल मंसूबा वगैरह शामिल हैं। तालीबा के लिए चल रही स्कॉलरशीप मंसूबा में पैसे देने की अमल को और आसान बनाया गया है़। एचआइवी मुतासिरों को महाना 600 रुपये की पेंशन दी जायेगी़। बजट में हुकूमत ने विधवा पेंशन का दायरा बढ़ा दिया है़ अब 40 साल से ज्यादा उम्र की तमाम विधवाओं को पेंशन दी जायेगी़।

अपने बजट भाषण में वज़ीरे आला ने स्कूली तालीम को मजबूत करने के मकसद से अगले छह माह में 18 हजार टीचरों की बहाली और स्मार्ट क्लास की निजाम करने का वादा किया है़। 3,20,000 स्टूडेंट्स को एलइडी सोलर लैंप देने का टारगेट रखा गया है। सरकार ने तकनीकी अदारों में इनोवेटिव लर्निंग को बढ़ावा देने के मकसद से डिजिटल लाइब्रेरी बनाने और मुफ्त में वाई-फाई सहूलत देने की एलान की है़। इन अदारों में वीडियो लेक्चर की भी निज़ाम की जायेगी। इम्तिहान के दौरान क्लास आम तौर से चलाने के लिए 10 जिलों में एक-एक बहुद्देश्यीय इम्तिहान इमारत बनाया जायेगा। वज़ीरे आला ने मेक इन इंडिया के तहत स्टूडेंट्स को कॉमर्सियल और तकनीकी तालीम में एक्सपर्ट बनाने का वायदा किया है। साथ ही कौशल मंसूबा के तहत 50 हजार नौजवानों को अलग-अलग ट्रेड में ट्रेनिंग देने की बात कही है़।

 

 

TOPPOPULARRECENT