Monday , August 21 2017
Home / India / अजमेर में हुई आर एस एस का मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का प्रोग्राम।

अजमेर में हुई आर एस एस का मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का प्रोग्राम।

images
अब्दुल हमीद अंसारी। siasat hindi

अजमेर (राजस्थान). आरएसएस से जुड़े मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) के अजमेर में 7 बातों पर ज्यादा तवज्जो दिए गए। इस दौरान बेहतर जिंदगी के लिए मुस्लिम ख्वातिनो से छोटी फैमिली रखने की अपील की गई।

जो सात अहम मुद्दों को पास किए गए, उनमें से ‘इन्टॉलरेंस’ और ‘आतंकवाद’ से भी जुड़े हैं। एक वुमन वेलफेयर फंड बनाने का भी एलान किया गया। आरएसएस के नेता इंद्रेश कुमार ने इस सेमिनार की सदारत की। उन्होंने कई अहम बातें कहीं।

इंद्रेश ने कहा –

छोटा परिवार यानी खुशहाली…

– बच्चे उतने ही होने चाहिए जिनकी एजुकेशन और हेल्थ सही तरीके से मैनेज की जा सके। कुछ नेता ज्यादा बच्चे पैदा करने की सलाह देते हैं। इससे नेताओं का वोट बैंक बढ़ जाता है लेकिन, आपकी फैमिली पर बुरा असर पड़ता है। बेटी का बर्थडे धूमधाम से मनाओ।

बेटियों की तालीम सबसे जरूरी

– मुस्लिम मुआशरे की तरक्की और खुशहाली के लिए बेटियों की तालीम सबसे जरूरी है। बेटियों को हायर एजुकेशन मिले, इसके लिए तंजीम पांच लाख रुपए से वुमन वेलफेयर फंड शुरु कर रहा है।

– फंड से मुस्लिम लड़कियों की एजुकेशन पर हर तरह का खर्च किया जाएगा। ताकि उन्हें बीच में एजुकेशन न छोड़नी पड़े।

– एक हजार रुपए देकर कोई भी आदमी इसका लाइफटाइम मेंबर बन सकेगा।

– इस फंड में कुछ बड़े कारोबारी भी मदद कर सकते है। वे 100 से 300 लड़कियों को गोद लेंगे।

नेशनल कन्वीनर मोहम्मद अफजल ने कहा –

सेमीनार में शामिल हुईं पांच हजार ख्वातिनो के सामने अपनी स्पीच में एमआरएम के नेशनल कन्वीनर मोहम्मद अफजल ने कहा कि आबादी के लिहाज से देश के रिसोर्सेस का बंटवारा सही नहीं है। इसलिए हमारी देश की तरक्की भी सही तरीके से नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि अगर फैमिली छोटी होगी तो बच्चों को अच्छी एजुकेशन और रोजगार मिल सकेगा। तभी आप खुशहाल फैमिली पा सकेंगे। उन्होंने कहा कि पैगंबर मोहम्मद सललाहो अलैहि व सल्लम ने भी सभी के लिए बेहतर तालीम की जरूरत बताई थी।

TOPPOPULARRECENT